देहरादून, [जेएनएन]: भगवान कृष्ण का जन्मोत्सव पूरे भारत में धूमधाम से मनाया जाता है। श्रद्धालु पूरे उल्लास के साथ इस त्योहार को मनाते हैं, जिसकी अलग ही रौनक देखने को मिलती है। इस बार दो सितंबर की रात 8:47 बजे से अष्टमी शुरू होगी, वहीं रोहिणी नक्षत्र 8:48 बजे से शुरू होगा। तीन सितंबर को रोहिणी नक्षत्र समाप्त होने पर रात 8:05 बजे व्रत का पारण होगा। हालांकि वैष्णव संप्रदाय को मानने वाले लोग तीन सितंबर को व्रत रखेंगे और चार सितंबर की सुबह सूर्योदय से पहले 6:13 मिनट पर व्रत का पारण करेंगे।

कृष्ण जन्मोत्सव भादो महीने में कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मनाया जाता है। इस बार जन्माष्टमी पर त्रिपुष्कर योग बन रहा है, जो बहुत ही शुभ माना जा रहा है। इस योग में जो भी शुभ कार्य किए जाते हैं, उनका तीन गुना लाभ मिलता है। ज्योतिषाचार्य डॉ. सुशांत राज ने बताया कि सृष्टि के पालनहार श्री विष्णु ने कृष्ण के रूप में आठवां अवतार लिया था। इसलिए कृष्ण जन्माष्टमी का विशेष महत्व है। इस दिन श्रद्धालु व्रत धारण करते हैं। बताया कि व्रत के दौरान अन्न ग्रहण न करें। इसे पारण के समय पर ही खोलें। व्रत के दौरान श्रद्धालु 'ऊं नमो भगवते वासुदेवाय नम:', 'योगेश्वराय योगसंभवाय योगपताये गोविंदाय नमो नम:', 'विश्वाय विश्वेश्वराय विश्वसंभावाय विश्वपतये गोविंदाय नमो नम:' आदि मंत्रों का जाप करें।

निशीता काल में इस तरह करें पूजा

निशिता पूजा का समय 12:03 से 12: 49 तक रहेगा। भगवान के जन्म के बाद पंचामृत से बाल गोपाल का अभिषेक करें। उनको नए कपड़े पहनाकर शृंगार करें। 'नंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की' कहते हुए बाल गोपाल को झूला झूलाएं। इसके बाद धूप-दीप कर आरती उतारें।

भोग में जरूर शामिल करें तुलसी

भगवान विष्णु को तुलसी बहुत प्रिय है। विष्णु पुराण के अनुसार भगवान के भोग में तुलसी का पत्ता अवश्य शामिल करें। बिना तुलसी पत्ते के भगवान को भोग न लगाएं।

ऐसे करें जन्माष्टमी की पूजा

कृष्ण जन्माष्टमी के दिन षोडशोपचार पूजा की जाती है, जो 16 चरणों में होती है। श्रीकृष्ण का ध्यान, आह्वान, आसन, पाद्य, अघ्र्य, आचमन, स्नान, वस्त्र, यज्ञोपवीत, चंदन, गंध, दीपक, नैवैद्य, तांबूल, दक्षिणा, आरती कर उन्हें भोग लगाएं।

मंदिरों में सजाई जा रहीं सुंदर झांकियां

दून के मंदिरों में कृष्ण जन्मोत्सव को लेकर विशेष तैयारियां की जा रही हैं। श्याम सुंदर मंदिर पटेल नगर, राधा कृष्ण मंदिर किशननगर, सत्यनारायण मंदिर डाकरा, कालिका मंदिर सहारनपुर, पंचायती मंदिर दर्शनलाल चौक आदि में सुंदर झांकियां सजाई जा रही हैं। 

बाजार पर चढ़ा कान्हा की भक्ति का रंग

रक्षाबंधन के बाद अब बाजारों पर जन्माष्टमी का रंग छाने लगा है। इसे लेकर बाजारों की रौनक देखते ही बन रही है। पर्व को लेकर लोग बड़ी संख्या में खरीददारी करने पहुंच रहे हैं। किराना बाजार से लेकर पूजन सामग्री बेचने वालों के यहां भीड़ लगी है।

पलटन बाजार में पूजा और व्रत के सामान की खूब बिक्री हो रही है। जगह-जगह खूबसूरत रंगों में रंगी कृष्ण और राधा की मूर्तियां नजर आ रही हैं। महिलाएं बाल गोपाल के लिए झूला, सिंहासन, बांसुरी, माला, मुकुट, पटका, चप्पलें आदि खरीदती नजर आ रही हैं।

खूब बिक रहे नन्हें गोपाल के ड्रेस 

जन्माष्टमी के अवसर पर लोगों में अक्सर अपने बच्चों को कृष्ण और राधा बनाने का उत्साह देखा जाता है। इसके लिए बाजार में बच्चों के कृष्ण और राधा की ड्रेसेज सबसे ज्यादा बिक रही हैं। पलटन बाजार के दुकानदार प्रतीक मैनी ने बताया कि माखन चोर और लिटिल कृष्णा प्रिंट के कपड़ों की सबसे ज्यादा मांग है। इनकी रेंज 200 से लेकर 700 रुपये तक है।

20 से लेकर 800 तक में बिकी मूर्तियां

पलटन बाजार में कृष्ण की मिट्टी और धातु की मूर्तियां भी खूब खरीदी जा रही हैं। 20 रुपये से लेकर 800 तक की मूर्तियां बाजार में मौजूद हैं। इसके अलावा 100 से लेकर 200 तक के बाल गोपाल के आकर्षक झूले भी मिल रहे हैं।

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर में निकलेगी शोभा यात्रा

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी शोभायात्रा समिति इस बार भी बड़ोवाला में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाएगी। इस दौरान शिमला बाईपास क्षेत्र में भव्य झांकी और शोभायात्रा निकाली जाएगी। 

समिति से जुड़े लोगों ने शुक्रवार को बैठक कर पर्व मनाने की तैयारी पर चर्चा की। इस दौरान कार्यक्रम के सफल बनाने के लिए जिम्मेदारियों सौंपी गई। समिति के विनय रावत, भाजपा महामंत्री राजेश रावत ने कहा कि शिमला बाईपास क्षेत्र में हर दिन कूड़े के वाहन चलते हैं। ऐसे में जन्माष्टमी के दिन वाहनों की आवाजाही दूसरे रूट से कराई जाए। इस संबंध में समिति से जुड़े लोगों ने नगर आयुक्त को ज्ञापन सौंपते हुए सहयोग की अपेक्षा की। 

कृष्ण भजनों पर झूमे श्रद्धालु

श्री सनातन धर्म सभा मंदिर, प्रेमनगर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के उपलक्ष्य में भजन संध्या का आयोजन किया गया। जिसमें स्थानीय लोगों के साथ ही बाहर से आए कलाकारों ने सुंदर भजनों की प्रस्तुति दी। 

शुक्रवार को फगवाड़ा पंजाब के हैप्पी सिंह ने बांके बिहारी के भजनों से माहौल भक्तिमय कर दिया। इस मौके पर सुंदर भजनों पर श्रद्धालु झूमने लगे। मंदिर समिति के अध्यक्ष सुभाष माकिन ने बताया कि शनिवार को मंदिर से भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी। जिसमें सुंदर झांकियों का प्रदर्शन किया जाएगा। इस दौरान मंदिर समिति के सचिव अवतार किशन कौल, रविंद्र माकिन, अर्जुन कोहली, जगदीश गिरोटी, मुन्नू भाटिया, विनोद आदि शामिल रहे।

यह भी पढ़ें: इस शख्‍स ने चौलाई के लड्डू को बदरीनाथ में दी खास पहचान

यह भी पढ़ें: केदारनाथ में रातभर चला अन्नकूट मेला, नए अनाज से किया बाबा का श्रृंगार

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप