ऋषिकेश, जेएनएन। लॉकडाउन के बीच सोशल मीडिया में फर्जी वीडियो वायरल करने वाले सात लोगों को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोप है कि इन लोगों ने ऋषिकेश के रोडवेज अड्डे में दस दिन से भूखा होने का फर्जी वीडियो वायरल कर अफवाह फैलाई। पुलिस इस तरह से अफवाह फैलाकर माहौल खराब करने वालों को भी चिह्नित कर रही है।

ऋषिकेश और आसपास क्षेत्र में ऋषिकेश रोडवेज अड्डे का एक वीडियो तेजी के साथ वायरल हुआ। इसमें दो लोग जमीन पर बैठे हैं और रो रहे हैं। यह कह रहे हैं कि हम दस दिन से ऋषिकेश में फंसे हैं और हमें खाना नहीं मिल रहा है। इनके समीप पांच लोग और अन्य खड़े हैं।

कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक रितेश शाह ने बताया कि सोशल मीडिया के इस वायरल वीडियो को पुलिस ने संज्ञान लिया। मामले की जांच कराई गई तो पता चला कि यह वीडियो गुरुवार की सुबह रोडवेज बस अड्डे में एक वोल्वो के समीप बनाया गया है। पुलिस ने जांच करने के बाद सात लोगों को गिरफ्तार किया। 

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए लोगों में एक नगर निगम का संविदा कर्मी दीपक है, जबकि रोडवेज कर्मचारी जगमोहन सिंह सहित वोल्वो स्टाफ दुष्यंत, धर्म सिंह,रघुवीर और चाय की ठेली लगाने वाले काला और अंकुश शामिल हैं। प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ने बताया कि लॉकआउट का इन्होंने उल्लंघन किया है। उन्होंने फर्जी वीडियो वायरल कर समाज को भ्रमित करने का काम किया है। इन सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

पुलिस ने बेवजह सड़कों पर घूमने वालों पर की सख्ती

पछवादून में सुबह की तीन घंटे की छूट के बाद लॉकडाउन का व्यापक असर दिखाई दिया। निर्धारित अवधि के बाद हाईवे व गलियों में सन्नाटा पसर गया। इस दौरान पूरे क्षेत्र में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर कोतवाली पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार कर मुकदमा दर्ज किया और कई घंटे बैठाकर थाने से ही जमानत दी। 

छूट के दौरान नगर के बाजारों में कई दुकानदारों ने भीड़ से बचने को गोले बनाए, जिसमें खड़े होकर लोगों ने अपनी जरूरत का सामान खरीदा। कई जगह दुकान के बाहर लोगों की भीड़ रही, जिन्होंने अपने बीच पर्याप्त दूरी भी नहीं रखी थी। पुलिस ने अनावश्यक घूमते आठ वाहनों के चालान भी काटे और तीन सीज किए। 

सुबह सात से दस बजे तक लोगों ने अपनी जरूरत का सामान खरीदा। सामान खरीदने के लिए लोगों की मारामारी को देखते हुए कई दुकानदारों ने अब दुकानें खोलने से हाथ खड़े कर दिए हैं। जैसे ही छूट का समय खत्म हुआ। पुलिस की सख्ती बढ़ते देख सब घरों में चले गए। इसके बाद भी कुछ युवकों के घूमते नजर आने पर पुलिस ने ऐसे लोगों को मैं समाज का दुश्मन हूं मैं घर पर नहीं रहूंगा, के पंपलेट थमाए। 

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन तोड़ने पर पुलिस ने प्रदेशभर में की ताबड़तोड़ कार्रवाई, अब तक 1265 किए जा चुके गिरफ्तार

कोतवाली पुलिस ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर छह लोगों को गिरफ्तार किया। साथ ही बिना वजह रोड पर घूम रहे आठ वाहनों के एमवी एक्ट में चालान काटने के साथ ही तीन वाहनों को सीज किया। पुलिस क्षेत्रधिकारी भूपेंद्र धोनी के अनुसार अब खुद ही जागरूक होकर लोग घरों में ही रह रहे हैं, जिनकी समझ में बात नहीं आ रही है, पुलिस सख्त कार्रवाई कर रही है। उन्हें जेल भेजा जा रहा है। वाहन सीज किए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Lockdown: बेवजह घूम रहे युवक पुलिस के लिए बने सिरदर्द, फटकारी लाठियां

Posted By: Bhanu Prakash Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस