देहरादून, जेएनएन। शहर में रात के समय सड़कों पर अब पीएसी भी गश्त करेगी। इसके लिए शहर के 18 प्वाइंट चिह्नित किए गए हैं, जहां पुलिस के साथ पीएसी के जवान भी मौजूद रहेंगे। इस बाबत एसएसपी ने सोमवार को आदेश जारी करते हुए मातहत अधिकारियों के साथ बैठक भी की। जिसमें रात्रि गश्त को और प्रभावी बनाने की दिशा में गंभीरता और पूरी जिम्मेदारी के साथ काम करने को कहा। एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने चेतावनी भी दी कि रात के समय चेकिंग में लापरवाही किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 

रविवार की रात भी एसएसपी गश्त व्यवस्था को चेक करने के लिए निकले थे। इस दौरान आराघर पर कुछ मजदूरों को रोकने और सहारनपुर रोड पर आइएसबीटी से पैदल घंटाघर तक पहुंचे लोगों की कहीं भी चेकिंग न होने को गंभीरता से लेते मातहत अधिकारियों के साथ शहर के थानेदारों की सोमवार को बैठक बुलाई थी। एसएसपी ने कहा कि शहर से बाहर जाने के रास्तों पर चेकिंग तो बेहतर हो गई है, लेकिन अंदर के इलाकों में चेकिंग को और बेहतर करना है। 

थानों में स्टाफ कम होने की बात सामने आने पर एसएसपी ने कहा कि अब से एक कंपनी एक प्लाटून पीएसी भी पुलिस के साथ रात में गश्त पर लगेगी। उन्होंने कहा कि रात के समय सघन चेकिंग की जाए, लेकिन लोगों को परेशान कतई न किया जाए। खासकर जो परिवार के साथ जा रहे हैं, उनके साथ शालीनता से पेश आएं। बैठक में एसपी सिटी श्वेता चौबे, एसपी ग्रामीण प्रमेंद्र डोभाल, एसपी ट्रैफिक प्रकाश चंद्र आर्य व अन्य स्टाफ मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें: सादी वर्दी में शहर में निकले एसएसपी, मुस्तैद पुलिसकर्मियों को किया पुरस्‍कृत

जोनल अधिकारी की भी तय हुई जवाबदेही

एसएसपी ने कहा कि रात में गश्त चेकिंग पर निकलने वाले जोनल अधिकारी व थानेदारों की जिम्मेदारी होगी कि वह प्रत्येक बैरियर ड्यूटी की जांच कर रिपोर्ट अगले दिन उन्हें सौंपेंगे। यदि उनके निरीक्षण में चेकिंग में कोई कोताही पाई गई तो जोनल अधिकारी और थानेदारों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

यह भी पढ़ें: जोगीवाला चौक के कट पर एनएच पर कार्रवाई करेंगे एसएसपी Dehradun News

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस