जागरण संवाददाता, देहरादून। आयुर्वेद विश्वविद्यालय में कुलसचिव और परीक्षा नियंत्रक पद पर की गई नियुक्ति में अनियमितता के आरोप पर किसी तरह की कार्रवाई नहीं हो पाई है। यह मामला अभी जवाब-तलब और आरोप-प्रत्यारोप के बीच ही झूल रहा है। पूर्व में जवाब तलब किए जाने के बाद शासन ने 10 दिन पहले एक पत्र भेजकर 10 बिंदुओं पर जवाब मांगा था। हालांकि, विवि प्रशासन इस पत्र को दबाकर बैठ गया। जवाब न मिलने पर अपर सचिव आयुष राजेंद्र सिंह ने नाराजगी व्यक्त करते हुए शीघ्र बिंदुवार जवाब देने को कहा है।

आयुर्वेद विवि व विवादों का चोलीदामन का साथ नजर आ रहा है। फरवरी माह में विवि में विवाद तब एक बार फिर गहरा गया था, जब कुलपति डॉ. सुनील जोशी ने प्रो. सुरेश चौबे को आदेश दिया कि वह डॉ. उत्तम कुमार शर्मा को कुलसचिव का अतिरिक्त पद्भार सौंपे। इस आदेश को मानने से प्रो. सुरेश ने इन्कार कर दिया था और वह अपने कक्ष में ताला लगाकर चले गए थे। इसके अलावा कुलपति ने परीक्षा नियंत्रक पद पर आयुर्वेदिक चिकित्सालय के वरिष्ठ चिकित्साधिकारी डॉ. पीके गुप्ता को परीक्षा नियंत्रक बना दिया।

इस नियुक्ति को लेकर भी सवाल खड़े किए गए हैं। दोनों नियुक्ति को लेकर शासन को कई दफा शिकायत मिली और राजभवन भी यह मामला पहुंचा। पूर्व में नियुक्तियों का ब्योरा तलब करने के बाद शासन ने नौ सितंबर को पत्र भेजकर जवाब तलब किया। जवाब देने की जगह विवि प्रशासन ने पत्र को दबा दिया। जब यह बात शासन को पता चली तो अपर सचिव ने नाराजगी व्यक्त करते हुए शीघ्र जवाब भेजने के निर्देश दिए।

इस मामले में कुलपति प्रो. सुनील जोशी का कहना है कि शासन का पत्र उन्हें नहीं मिला है। हो सकता है पत्र कुलसचिव के पास हो। इस बारे में पता कराकर पत्र के मुताबिक जवाब भेज दिया जाएगा। साथ ही कहा कि दोनों नियुक्ति नियमानुसार की गई हैं।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय से हजारों रुपये की किताबें गायब, ऐसे पकड़ में आया मामला

इन बिंदुओं पर मांगा जवाब

-प्रोफेसरों को करियर एडवांसमेंट स्कीम (सीएएस) के तहत पदोन्नत करने की प्रक्रिया संबंधी आदेश की प्रतियां व समस्त मानकों की सूचना सुसंगत अभिलेखों/शासनादेशों सहित भेजी जाए।

-विवि में प्रभारी कुलसचिव के पद पर तैनात डॉ. उत्तम शर्मा की पदोन्नति/नियुक्ति में अर्हकारी सेवा के स्तर व वेतनमान का विवरण उपलब्ध संबंधित शासनादेशों सहित कराएं।

-विवि में तदर्थ रूप से तैनात डॉ. उत्तम कुमार शर्मा को विनियमित करने की कार्रवाई का विवरण सुसंगत आदेश सहित उपलब्ध कराएं।

-डॉ. प्रदीप गुप्ता वरिष्ठ चिकित्साधिकारी को परीक्षा नियंत्रक एवं उप कुलसचिव के पद पर नियुक्त करने संबंधी आदेश/शासनादेश उपलब्ध कराएं।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में 1288 स्कूलों के भवन जर्जर हालत में, सिर्फ 522 को ही दी गई मरम्मत के लिए धनराशि

Edited By: Raksha Panthri