देहरादून, जेएनएन। दूसरी मंजिल से गिरे एक साल छह माह की उम्र के बच्चे को कैलाश अस्पताल के चिकित्सकों ने नया जीवन दिया है। सोमवार को अस्पताल में आयोजित पत्रकार वार्ता में निदेशक पवन शर्मा, चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अतीश सिन्हा, न्यूरो सर्जन डॉ. अंकुर कपूर, बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. रोहित श्रीवास्तव व ईएनटी सर्जन डॉ. राजीव गुप्ता ने इस बारे में जानकारी दी। 

उन्होंने बताया कि तीन सितंबर को जेसर नाम के बच्चे को दूसरी मंजिल से गिरने पर बेहोशी की हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। दिमाग के बाएं हिस्से में हड्डी का फ्रेक्चर होने और एक हिस्से में क्लॉट जमा होने से बच्चा कोमा में चला गया था। टूटी हुई हड्डी से मस्तिष्क का भाग बाहर निकलने लगा व बाएं हिस्से में सूजन बन गई। उन्होंने बताया कि कोमा की स्थिति में बच्चे के ऑपरेशन में कई तरह के जोखिम थे। लेकिन अनुभवी चिकित्सकों की टीम ने 26 सितंबर को शंट ऑपरेशन किया और इसके बाद कोमा की स्थिति में सुधार आया।

दिमाग के गहरे हिस्से में चोट लगने से पानी के नियंत्रण में कमी आ गई थी। जिससे बच्चे को अत्याधिक पेशाब आने लगा। इसका उपचार किया गया। काफी दिनों तक वेंटीलेटर पर रहने के कारण छाती में आए इंफेक्शन के लिए तीन सप्ताह तक एंटीबायोटिक चली। करीब ढाई माह तक बच्चे का उपचार चला। अब बच्चे को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और वह स्वस्थ्य है। 

यह भी पढ़ें: सुगम क्षेत्र के अस्पताल पीपीपी मोड पर देने के विरोध में हैं डॉक्टर

यह भी पढ़ें: अब होम्योपैथी चिकित्सक भी कर सकेंगे मेडिकल प्रमाण जारी, जानिए

यह भी पढ़ें: दून महिला अस्पताल में व्यवस्थाएं बदहाल, शौचालय को बनाया गया स्टोर

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस