देहरादून, राज्य ब्यूरो। प्रदेश में मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द हकीकत बनने जा रहा है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के दौरान मंत्रिमंडल के विस्तार का मुद्दा भी रखा। सूत्रों के मुताबिक सोमवार को इस संबंध में बैठक होने जा रही है। इससे लगता है कि आलाकमान का रुख सकारात्मक है। 

उत्तराखंड में मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर कयासों का दौर अब खत्म होने को है। तकरीबन तीन साल बाद मंत्रिमंडल विस्तार पर आलाकमान से हरी झंडी मिलने के संकेत हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात के दौरान राज्य में विकास कार्यो पर चर्चा की। साथ में मंत्रिमंडल विस्तार का मामला भी उनके सामने रखा। प्रधानमंत्री से मिले संकेत को मंत्रिमंडल विस्तार के मामले में सकारात्मक माना जा रहा है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने ऐसे संकेतों की पुष्टि की। साथ ही उन्होंने बताया कि इस संबंध में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सोमवार को बैठक भी करेंगे।

त्रिवेंद्र सिंह रावत मंत्रिमंडल में फिलवक्त तीन पद रिक्त हैं। इन पदों को भरने के लिए पार्टी के भीतर से ही लंबे समय से दबाव बना हुआ है। एक अनार सौ बीमार वाली हालत देखते हुए सरकार और संगठन इस पर ठोस फैसला लेने से बचते रहे। करीब तीन साल बाद अब मंत्रिमंडल अपनी भरपूर संख्या के साथ सामने आने जा रहा है। वर्ष 2022 में अगले विधानसभा चुनाव की ओर बढ़ रही भाजपा के अंदरूनी सियासी समीकरण भी बदले हैं। नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत भी पार्टी के भीतर से उठ रही आवाज के बाद मंत्रिमंडल विस्तार की जरूरत खुलकर जता रहे हैं।

मंत्री पदों को इतने समय खाली रखना ठीक नहीं 

मंत्रिमंडल के विस्तार का मसला गर्माने लगा है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पहले ही संकेत दे चुके हैं कि मंत्रिमंडल में रिक्त पद जल्द भरे जाएंगे। अब भाजपा के नवनिर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने भी इन पदों को भरने पर जोर दिया है। भगत ने कहा कि मंत्री पद भरना हालांकि, मुख्यमंत्री के विवेकाधिकार का मामला है, मगर इतने समय तक मंत्री पदों को खाली रखना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि वह दिल्ली जा रहे हैं और रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात का समय मांगा है।

भाजपा के नवनिर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष भगत ने 'दैनिक जागरण' से बातचीत में कहा कि प्रधानमंत्री से शिष्टाचार भेंट के दौरान वह राज्य मंत्रिमंडल में मंत्री पदों को भरे जाने के संबंध में भी चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली प्रवास के दौरान वह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत अन्य नेताओं से भी मुलाकात करेंगे।

2022 में भी मिलेगा प्रचंड बहुमत

भगत ने कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में भी भाजपा 2017 की तरह प्रचंड बहुमत हासिल करेगी। विस चुनाव के मद्देनजर कार्यकर्ताओं को तैयार करना है। भाजपा का कार्यकर्ता सरल हृदय का है। कार्यकर्ता का जो मान-सम्मान होना चाहिए, वह उसे मिलेगा। उन्होंने बताया कि ऐसी व्यवस्था की जाएगी कि हर हफ्ते मंडल स्तर के कार्यकर्ता एक-एक बूथ पर 20-20 कार्यकर्ताओं के घर जाकर संपर्क करेंगे। बूथ स्तर तक सभी को सक्रिय किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी को महाकुंभ की तैयारियों की दी जानकारी, आर्थिक सहयोग का किया अनुरोध

कमजोर विस क्षेत्रों पर फोकस

उन्होंने कहा कि जिन विधानसभा क्षेत्रों में पूर्व में प्रदर्शन अपेक्षानुरूप नहीं रहा, वहां इस बार विशेष फोकस किया जाएगा। वहां उचित व्यक्ति को टिकट मिले, इस पर ध्यान देंगे। ऐसे क्षेत्रों में इसी हिसाब से प्रभारी की नियुक्ति समेत अन्य कदम उठाए जाएंगे।

यह भी पढें: तो इसी महीने होगा त्रिवेंद्र मंत्रिमंडल का विस्तार, भरे जाएंगे तीन रिक्त पद

दो माह में कार्यकारिणी का गठन

भगत ने कहा कि एक माह वह पूरे प्रदेश का दौरा करेंगे। इस दरम्यान सभी कार्यकर्ताओं से तमाम मसलों पर मंथन करेंगे। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं के साथ ही सभी वरिष्ठ जनों से सलाह-मशविरे के बाद दो माह के भीतर प्रदेश कार्यकारिणी का गठन कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: त्रिवेंद्र मंत्रिमंडल के विस्तार पर लग सकती ही पीएम की मुहर

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस