नोएडा, जागरण संवाददाता। Weekend Curfew 2021:  दिल्ली के साथ उत्तर प्रदेश के शहरों नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और हापड़ में अनलॉक प्रक्रिया के तहत बड़ी राहत मिली हुई है, लेकिन वीकेंड कर्फ्यू जारी है। इससे आम लोगों को तो कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन कारोबारी-व्यापारी वर्ग खासा परेशान है। दिल्ली से सटे गौतमबुद्धनगर और गाजियाबाद जिले में कारोबारी सरकार के इस निर्णय को लेकर सहमत नहीं हैं। गौरतलब है कि सप्ताह में पांच दिन सुबह सात से रात नौ बजे तक कोरोना कर्फ्यू में छूट देने के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के फैसले ने व्यापारियों, कारोबारियों समेत आम नागरिकों को बड़ी राहत दी है। सरकार के इस निर्णय का व्यापारी वर्ग स्वागत करता है, लेकिन व्यापार की आवश्यकता है कि सरकार कोरोना कर्प्यू से पूरे सप्ताह के लिए हटा ले। साथ ही जिलाधिकारी को निर्देशित करे कि वह बाजारों में साप्ताहिक बंदी का पूर्णत: पालन करवाएं, जिससे व्यापारी अपनी कारोबारी गतिविधियों को स्वतंत्र तरीके से बाजार संचालित कर सके।

इस मांग पर सरकार से बातचीत करने के लिए व्यापारियों ने उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल जिलाध्यक्ष नरेश कुच्छल से आग्रह किया। सोमवार को सेक्टर-पांच स्थित हरौला बाजार में प्रतिनिधिमंडल पदाधिकारियों के साथ व्यापारियों की बैठक हुई। इसमें प्रतिनिधिमंडल चेयरमैन राम अवतार सिंह ने कहा कि  शनिवार और रविवार को वीकली कोरोना कर्फ्यू खत्म कर दिया जाए तो बाजार में ग्राहक भी खरीदारी कर सकेंगे।

इस मौके पर वरिष्ठ महामंत्री मनोज भाटी, महामंत्री दिनेश महावर, सत्यनारायण गोयल, राधेश्याम गोयल, संदीप चौहान, मूलचंद गुप्ता, सोमवीर, बृजमोहन यादव, अनिल गर्ग, जेपी जलान, बृजमोहन राजपूत, पीयूष वालिया अन्य मौजूद रहे।

गौरतलब है कि सूबे में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेजी से कमी आने के बाद योगी आदित्यनाथ सरकार ने कई तरह की छूट दी हैं, जिससे लोगों का रोजगार और अन्य काम धंधे सुचारू रूप से चल सकें। माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में हालात में और सुधार हुआ तो छूट का दायरा बढ़ाया जाएगा।

Delhi Metro Commuters Alert ! लाखों मेट्रो यात्रियों का सफर जल्द होने वाला है आसान, UP-हरियाणा के लोगों को भी होगा लाभ

Delhi Metro Grey Line: जुलाई में मिलेगा मेट्रो के यात्रियों को तोहफा, ढांसा बस स्टैंड तक कर सकेंगे सफर

बता दें कि दिल्ली से सटे नोएडा और ग्रेटर नोएडा के साथ गाजियाबाद में भी आगामी 30 जून यानी बुधवार तक धारा-144 लागू है। बता दें कि हालात के मद्देनजर जरूरत पड़ने पर धारा 144 लागू होने के दौरान इंटरनेट सेवाओं को भी ठप किया जा सकता है। धारा लागू करने के लिए इलाके के जिलाधिकारी द्वारा एक नोटिफिकेशन जारी किया जाता है। यह धारा लागू होने के बाद उस इलाके में हथियारों के ले जाने पर भी पाबंदी होती है।

ये भी पढ़ेंः जानिए कौन हैं दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर बालाजी, जो अब लेंगे एनएन श्रीवास्तव की जगह

Kisan Andolan: किसान नेता ने संयुक्त किसान मोर्चा से पूछा जिद से क्या मिलेगा?, प्रदर्शनकारियों की आ रही शिकायतें

पढ़िये- हरियाणा के उस नेता की कहानी, दिग्गज जाट नेता देवीलाल को मात देकर बन गए सीएम

Edited By: Jp Yadav