नई दिल्ली, टेक डेस्क। Xiaomi अपने स्मार्टफोन्स में कस्टम स्किन यानी की MIUI का इस्तेमाल करती है। MIUI मुख्यत: स्टेबल फॉर्म में ही उपलब्ध होता है, लेकिन Xiaomi कुछ यूजर्स को इसका बीटा वर्जन भी उपलब्ध करवाती है। कंपनी ऐसा नए फीचर्स की टेस्टिंग के लिए भी करती है। सभी यूजर्स के लिए कोई अपडेट लाने से पहले उन्हें आने वाले फीचर से सम्बंधित फीडबैक मिल जाता है। अब कंपनी ने अपनी प्रक्रिया बेहतर करने और क्वालिटी कंट्रोल के लिए MIUI की बीटा बिल्ड को लेकर कुछ बदलाव किए हैं।

MIUI टीम के एक पोस्ट के अनुसार, कंपनी 5 जुलाई 2019 से MIUI अपडेट्स को लेकर नाइ पॉलिसी ला रही है। इसके बाद सभी फोन्स को रिलीज के एक साल बाद तक सिर्फ बीटा सॉफ्टवेयर बिल्ड मिलेंगी। इसी के साथ कंपनी एंट्री-लेवल Redmi स्मार्टफोन्स के लिए MIUI बीटा बिल्ड बनाना बंद कर देगी। यूजर्स स्टेबल वर्जन में बीटा डेवलपमेंट खत्म होने के बाद ही शिफ्ट कर पाएंगे। हालांकि इसके लिए स्मार्टफोन को पूरे डाटा के साथ रिसेट करना होगा। इस बदलाव का असर स्टेबल बिल्ड पर नहीं पड़ेगा। स्टेबल वर्जन में सॉफ्टवेयर अपडेट्स मिलते रहेंगे।

Mi A2 को खरीदने के लिए क्लिक करें यहां, Galaxy M20 को खरीदने के लिए क्लिक करें यहां, iPhone XR को खरीदने के लिए क्लिक करें यहां

MIUI एंड्रॉइड में पॉपुलर है और शायद यही कारण है की Xiaomi चीन और भारत में सफल रहा है। हालांकि, यूजर्स MIUI की इसके फीचर्स के लिए सराहना करते हैं, लेकिन बड़ी मात्रा में एड आए के कारण सॉफ्टवेयर की काफी निंदा भी होती है।

Amazon Fab Phone Fest में OnePlus 6T को खरीदने के लिए क्लिक करें यहां, Galaxy M30 को खरीदने के लिए क्लिक करें यहां

यह भी पढ़ें:

Google Maps आपकी टैक्सी के गलत रूट पकड़ने पर आपको देगा तुरंत अलर्ट

ऑनलाइन स्मार्टफोन बिक्री में आया उछाल, Xiaomi पहले तो दूसरे स्थान पर रहा Samsung

अब फोन के साथ-साथ अपने Wardrobe को भी करें रिचार्ज, Jio लाया यह आकर्षक ऑफर

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sakshi Pandya