नई दिल्ली(टेक डेस्क)। स्पेन की राजधानी बार्सिलोना में साल का सबसे बड़ा टेक इवेंट शुरु हो गया है। मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2018 में सैमसंग, सोनी और नोकिया जैसी स्मार्टकंपनियों ने अपने प्रोडक्ट्स को लॉन्च कर दिया है। ऐसे में MWC 2018 में सरकारी टेलीकॉम कंपनी भारतीय संचार नगम लिमिडेट(बीएसएनएल) ने एक बड़ा ऐलान किया है। बीएसएनएल देश के पश्चिमी और दक्षिणी रीजन को कवर करने वाले 10 टेलिकॉम सर्किल में 4जी सेवा शुरू करने जा रही है। बीएसएनएल ने इस सेवा के लिए फिनलैंड की मोबाइल निर्माता कंपनी नोकिया के साथ करार किया है।

बीएसएनएल की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि कंपनी ने नोकिया के साथ टेक्नोलॉजी साझेदारी की है। इस साझेदारी के तहत देश के दक्षिण और पश्चिमी जोन में लेटेस्टक RAN टेक्नोलॉजी को शुरू किया जाएगा। कंपनी की तरफ से ये भी कहा गया है कि वो 5जी तकनीक पर काम कर रही है और कुछ समय बाद, वो 5जी तकनीक पर अपने सिस्टम को स्विफ्ट कर देगी।

इन राज्यों में शुरू होगी 4G

बीएसएनएल की तरफ से जारी बयान में बताया गया है कि नोकिया भारत के 10 टेलिकॉम सर्कल में अपनी तकनीक को शुरू करेगी। इन 10 राज्यों में गुजरात, महाराष्ट्र , मध्यम प्रदेश, छत्तींसगढ़, तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, केरल, गोवा और तेलंगाना शामिल हैं। इन जोन में कई ऐसे शहर हैं, जो उद्योग, तकनीक और पर्यटक स्थान के लिए मशहूर हैं। इस सुविधा से बीएसएनएल के करीब 3.8 करोड़ सब्सकक्राइबर्स को फायदा होगा।

कैसे काम करेगी बीएसएनएल और नोकिया

बीएसएनएल के एक अधिकारी के मुताबिक नोकिया नेटवर्क टेक्नोलॉजी लगाएगा, इसके चलते बीएसएनएल की ऑपरेशनल कीमत में कटौती होगी। यूजर्स को सिंग रेडियो यूनिट पर 2जी, 3जी और 4जी सेवा मिलेगी।

एरटेल का बड़ा ऐलान

वहीं इससे पहले दिग्गज टेलिकॉम कंपनी भारती एयरटेल ने बड़ा ऐलान किया है। कंपनी अब अपने सभी यूजर्स को देसी और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में हाईस्पीड इंटरनेट डाटा कनेक्टिविटी देगी। इस सुविधा के लिए एयरटेल ने एक वैश्विक संगठन सीमलेस एलायंस के साथ करार किया है। एयरटेल ने कहा है कि उसके यूजर्स को अब फ्लाइट में बिना रुकावट के तेज इंटरनेट मिलेगा।

एयरटेल की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि सीमलेस एलायंस नाम के इस वैश्विक संगठन में वनवेब, एयरबस, डेल्टा और स्प्रिंट शामिल हैं, एयरटेल भी इसमें शामिल हो गया है। ये सभी मिलकर सैटलाइट तकनीक के जरिए फ्लाइट में भी हाई-स्पीड डाटा कनेक्टिविटी देंगे। यहां जानना जरूरी है कि टेलीकॉम रेगुलेटर ट्राई ने हाल ही में घरेलू उड़ानों में मोबाइल कनेक्टिविटी को मंजूरी दी है। जल्द ही इसका पॉयलट प्रोजेक्ट शुरू होगा।

इस वैश्विक पहल का ऐलान रविवार को बार्सिलोना में आयोजित मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2018 के दौरान हुआ। सीमलेस एलायंस के 5 फाउंडिंग सदस्यों के अलावा इसमें इटस्ट्री के और भी सदस्यों को जोड़ा जाएगा। सीमलेस एलायंस के सभी सदस्य मिलकर डाटा एक्सेस का इन्फ्रास्ट्रक्चर सुधारने और लागत को कम करने के लिए काम करेंगे। इस सुविधा के लागू होने के बाद एयरटेल के लगभग 37 लाख यूजर फ्लाइट में बिना रुकावट वाले इंटरनेट सुविधा का इस्तेमाल कर पाएंगे।

यह भी पढ़ें:

MWC 2018: नोकिया ने लॉन्च किया अपना पहला 4G फोन, जानिए कीमत और फीचर्स

MWC 2018: लॉन्च होने से पहले ही लीक हो गई इन स्मार्टफोन्स की जानकारी

MWC 2018: नोकिया का सबसे खास फोन Nokia 8 Sirocco लॉन्च, धूल-पानी का नहीं होगा असर

MWC 2018: सैमसंग गैलेक्सी S9 और गैलेक्सी S9 प्लस में हैं ये 4 बड़े अंतर

MWC 2018: सैमसंग गैलेक्सी S9 लॉन्च, इसलिए हो रही है आईफोन X से तुलना

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस