नई दिल्ली (टेक डेस्क)। पिछले कुछ दिनों से भारत में सिम स्वैप करके यूजर्स को करोड़ों का चूना लगाया जा चुका है। कोलकाता, बेंगलुरू और दिल्ली पुलिस के साइबर सेल से मिली जानकारी के मुताबिक सिम स्वैप की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं। सिम स्वैप के जरिए हैकर्स मिनटों में यूजर्स को करोड़ों की चपत लगा रहें हैं। आइए, जानते हैं सिम स्वैप के बारे में

क्या है सिम स्वैप?

सिम स्वैप की वजह से हैकर्स आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के सिम को दूसरे सिम में एक्सचेंज कर लेते हैं। इसके बाद आपके सिम से नेटवर्क गायब हो जाता है और आपको पता भी नहीं चलता है। सिम स्वैप की वजह से ये नंबर हैकर अपने मोबाइल में एक्टिवेट कर लेते हैं। इसके बाद हैकर्स आपके बैंकिंग सेवा से लेकर सभी तरह के ओटीपी को एक्सेस कर लेते हैं और आपको लाखों-करोड़ों का चपत लग जाता है।

इस तरह बनाते हैं शिकार

हैकर्स आपको आपके टेलिकॉम सर्विस प्रोवाइडर के नाम से कॉल करते हैं। इसके बाद वो आपसे कहते हैं कि आपके नंबर पर कॉल ड्रॉप की समस्या या किसी भी तरह की नेटवर्क समस्या के लिए आपको सिम बदलना होगा और इसके लिए आपको नया सिम दिया जाएगा।

मांगते हैं सिम नंबर

हैकर्स कॉल के दौरान आपसे आपके सिम पे अंकित 20 डिजीट का नंबर मांगते हैं। इस नंबर को आप अपने सिम के पीछे वाले भाग में देख सकते हैं। इस नंबर का इस्तेमाल करके हैकर्स आपके मोबाइल नंबर से रजिस्टर्ड सिम को बदल देते हैं। जैसे ही आप उनकी बातों में आ जाते हैं तो वो आपसे कहते हैं कि आप अपने फोन में 1 को प्रेस करें। ऐसा करने से सिम स्वैप करने का अप्रूवल मिल जाता है और सिम स्वैप की प्रक्रिया पूरी हो जाती है। इस तरह से ज्यादातर यूजर्स उनकी बात में आकर सिम स्वैप जैसी समस्या का शिकार बन जाते हैं।

मोबाइल का सिग्नल हो जाता है गायब

सिम स्वैप की प्रक्रिया पूरी होते ही आपके मोबाइल से सिग्नल गायब हो जाता है और आपका सिम हैकर्स के पास एक्टिवेट हो जाता है।

वरिष्ठ नागरिक होते हैं मुख्य शिकार

सिम स्वैप की ज्यादातर घटनाओं में हैकर्स वरिष्ठ नागरिकों को शिकार बनाते हैं। इसके अलावा महिलाएं भी उनके शिकार की सूची में शामिल हैं। हैकर्स इन्हें आसानी से अपनी बातों में उलझा लेते हैं और घटना को अंजाम देते हैं।

इस तरह करें बचाव

जब भी आपको नेटवर्क या अन्य किसी तरह की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो आप हमेशा टेलिकॉम कंपनी के ऑफिशियल स्टोर पर जाकर ही अपना सिम स्वैप करवाएं। इस तरह की किसी कॉल को किसी भी तरह से इंटरटेन न करें। इसके अलावा आप अपने सिम कार्ड का नंबर किसी से कॉल पर शेयर न करें।

यह भी पढ़ें

आइफोन X की तरह दिखने वाला हुवावे का एक और फोन होगा लॉन्च, जानें फीचर्स

इन 5 वजहों को जानकर, आप नहीं खरीदेंगे 8GB रैम वाले स्मार्टफोन

गूगल पे के लिए रोल आउट हुआ नया अपडेट, पेमेंट करना होगा और सुरक्षित

Posted By: Harshit Harsh