नई दिल्ली (टेक डेस्क)। Android का नया ऑपरेटिंग सिस्टम Android 9 Pie लॉन्च हो गया है। इस ऑपरेटिंग सिस्टम को गूगल ने एंड्रॉइड ओरियो 8.0 के बाद लॉन्च किया है। आपको बता दें कि गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई ने Google I/O 2018 में इस ऑपरेटिंग सिस्टम का नाम एंड्रॉइड P रखा था। अब इस ऑपरेटिंग सिस्टम का नाम बदलकर Android 9 Pie रख दिया गया है। इस ऑपरेटिंग सिस्टम में कई आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस फीचर्स दिए गए हैं। यह नया ऑपरेटिंग सिस्टम 8 या 9 अगस्त से रोल आउट किया जाएगा।

इस ऑपरेटिंग सिस्टम का बीटा वर्जन चुनिंदा एंड्रॉइड वन डिवाइसों में पहले से ही रोल आउट कर दिया गया है। सोमवार से यह गूगल पिक्सल 2XL डिवाइस के लिए रोल आउट कर दिया गया है। बाद में कुछ और डिवाइस में भी इस ऑपरेटिंग सिस्टम को रोल आउट किया जाएगा। आइए, जानते हैं इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में। साथ ही यह भी जानेंगे कि यह ऑपरेटिंग सिस्टम किन स्मार्टफोन्स में कब से मिलेगा।

Android 9 या Pie के 5 महत्वपूर्ण फीचर्स

प्रदर्शन (जेस्चर): सबसे पहले हम इस ऑपरेटिंग सिस्टम के लुक या प्रदर्शन की बात करते हैं। इसके जेस्चर की बात करें तो पहली बार एंड्रॉइड के होम बटन को रिप्लेस करके छोटे से हैंडल को लगाया गया है। साथ ही इसका ऐप स्वीचर आइफोन एक्स की तरह ही होरिजोनटली स्क्रॉल होता है। यानी की यह नया फीचर एंड्रॉइड यूजर्स को जरूर आकर्षक लगेगा। गूगल का मुख्य फोकस नए फीचर्स के जरिए यूजर्स के लिए स्मार्टफोन मैनेजमेंट ज्यादा सुविधाजनक बनाने पर है।

अडेप्टिव बैटरी और अडेप्टिव ब्राइटनेस फीचर: इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम में गूगल ने एडेप्टिव बैटरी और एडेप्टिव ब्राइटनेस फीचर्स दिया है। एडेप्टिव बैटरी फीचर्स के जरिए स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ बेहतर बनाने पर जोर दिया गया है। नया ऑपरेटिंग सिस्टम स्मार्टफोन के बैटरी लाइफ के साथ सीपीयू परफार्मेंस भी सुधारने का काम करेगा।

नए गूगल असिस्टेंस फीचर से होगा लैस: इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम गूगल असिस्टेंस से लैस होगा। जिसके जरिए आप अपने स्मार्टफोन से इंसानों की तरह ही वार्तालाप कर सकेगें। इसके लिए गूगल ने 6 नई आवाजें भी जोड़े हैं।

ऐप के लिए सेट कर सकेंगे टाइम लिमिट: गूगल के इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम के जरिए आप ऐप के इस्तेमाल की टाइम लिमिट सेट कर सकेंगे। अगर यूजर्स किसी ऐप पर ज्यादा टाइम बिताएगा तो यह ऑपरेटिंग सिस्टम यूजर्स को बताएगा कि आपने इस ऐप पर इतना समय बिताया है जो यूजर्स को टाइम मैनेजमेंट करने की सहूलियत प्रदान करेगा।

डू नॉट डिस्टर्ब मोड: वैसे तो डू नॉट डिस्टर्ब मोड एंड्रॉइड ओरियो 8.0 में भी पहले से दिया गया है लेकिन इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम में इसे और भी बेहतर बनाया गया है। इस मोड के जरिए आप अपने कॉन्टेक्ट को स्टार कर सकते हैं। स्टार किये गये कॉन्टेक्ट्स के अलावा और कोई भी न तो आपको कॉल कर सकेगा न ही मैसेज भेज पाएगा। इसके अलावा इस मोड में ऐप के नोटिफिकेशन्स भी नहीं आएंगे। अगर आप छुट्टी पर हैं या किसी मीटिंग में हैं तो इस मोड को इनेबल करने के बाद केवल जरूरी के कॉल्स ही आपके पास आ पाएगें।

इन डिवाइस में मिलेगा अर्ली एक्सेस

एंड्रॉइड 9 या पाई को फिलहाल कुछ चुनिंदा डिवाइस के लिए उतारा गया है। इस ऑपरेटिंग सिस्टम को कुछ चुनिंदा डिवाइस के लिए सबसे पहले रोल आउट किया जाएगा।

गूगल पिक्सल डिवाइस: अगर, आपके पास गूगल पिक्सल डिवाइस है तो आपके पास इस ऑपरेटिंग सिस्टम का अपडेट सबसे पहले मिलेगा। इस ऑपरेटिंग सिस्टम को गूगल के डिवाइस के लिए रोल ऑउट कर दिया गया है। गूगल ने अपने पिक्सल स्मार्टफोन्स को 2016 में लॉन्च किया था।

वनप्लस: एंड्रॉइड 9 या पाई को वनप्लस 5, वनप्लस 5T और वनप्लस 6 के लिए भी रोल आउट किया जाएगा। इस साल के अंत तक वनप्लस 5 और वनप्लस 5T के लिए इसे रोल आउट किया जाएगा। जबकि, वनप्लस 6 के लिए इसका अपडेट अगले कुछ सप्ताह में जारी कर दिया जाएगा।

नोकिया: एंड्रॉइड वन प्रोग्राम का हिस्सा रहे नोकिया के डिवाइस नोकिया 7 प्लस, नोकिया 6.1 और नोकिया 8 सिरोको में इस अपडेट को 30 नवंबर तक जारी कर दिया जाएगा।

सैमसंग: सैमसंग के प्रीमियम स्मार्टफोन्स में भी इस ऑपरेटिंग सिस्टम को साल के अंत तक रोल आउट कर दिया जाएगा।

अन्य स्मार्टफोन्स: अगर, आपके पास शाओमी के एंड्रॉइड वन डिवाइस Mi A1 और Mi A2 है तो आपको भी इस ऑपरेटिंग सिस्टम का अपडेट जल्द मिलेगा। इसके अलावा Vivo X21 और Sony Xperia XZ2 में भी इस ऑपरेटिंग सिस्टम को जल्द ही रोल आउट किया जाएगा। 

यह भी पढ़ें:

Honor 7C और सैमसंग गैलेक्सी J7 Prime की कीमत में हुई कटौती, जानें फीचर्स

JioPhone Vs Xiaomi Qin1s: इन दोनों 4G फीचर फोन में कौन है बेहतर, पढ़ें कम्पैरिजन

कहीं आपके पास भी तो नहीं आया ये मैसेज, इनकम टैक्स रिटर्न में लग सकती हैं सेंध

Posted By: Harshit Harsh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप