नई दिल्ली (टेक डेस्क)। चीन की वीडियो शेयरिंग ऐप TikTok लॉन्च होने के 1 साल में ही बेहद लोकप्रिय हो गई है। इसे दुनियाभर के 100 करोड़ से ज्यादा लोग इस्तेमाल करते हैं, लेकिन इसके लोकप्रिय होने बावजूद भी इस ऐप पर विवादित वीडियो को बढ़ावा देने का आरोप लगा है। टिक टॉप पर आरोप लगाया गया है कि यह ऐप चाइल्ड विवादित वीडियो को बढ़ावा देती है। इस सबसे निपटने के लिए कंपनी ने कुछ यूजर्स के अकाउंट और कुछ वीडियो डिलीट करना शुरू कर दिए हैं।

TikTok ने बंद किए कुछ यूजर्स के अकाउंट:

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कुछ TikTok यूजर्स ने दावा किया है कि उनके अकाउंट को बंद कर दिया गया है। वहीं, कुछ यूजर्स ने कहा है कि उनके कुछ वीडियोज को डिलीट कर दिया गया है। यूजर्स का कहना है कि ये वीडियोज या अकाउंट्स बिना जानकारी के डिलीट किए गए हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि TikTok ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव किए हैं। इसके तहत 13 वर्ष से कम आयु के यूजर्स के अकाउंट बंद किए जाएंगे। इसी के चलते ऐप यूजर्स से उनके उम्र की जानकारी भी ले रहा है।

FTC सेटलमेंट एग्रीमेंट के तहत लिया गया फैसला:

TikTok के मुताबिक, यह फैसला FTC सेटलमेंट एग्रीमेंट के तहत लिया गया है। इसका सीधा मतलब है कि अगर 13 वर्ष से कम उम्र के बच्चे TikTok पर अकाउंट बनाते हैं तो उनके पैरेंट्स को इसकी परमीशन देनी होगी। आपको बता दें कि ऐप ने यह पॉलिसी अभी अमेरिका में लागू की है, लेकिन इसे जल्द ही भारत में भी लागू किया जा सकता है।

यूजर बेस के मामले में शॉर्ट वीडियो होस्टिंग सोशल प्लेटफॉर्म TikTok का इस समय भारत में 39 फीसद मार्केट शेयर है। TikTok का ग्लोबल यूजर बेस 500 मिलियन है जिसका 39 फीसद केवल भारत में ही है। इस ऐप के जरिए हर रोज लाखों-करोड़ों यूजर्स कई वीडियो बनाकर पोस्ट करते हैं।

यह भी पढ़ें:

Facebook Messenger में जुड़ा डार्क मोड फीचर, जानें कैसे करें एक्टिवेट

Xiaomi Redmi 7 की जानकारियां आई सामने, बड़े डिस्प्ले के साथ हो सकता है लॉन्च

Xiaomi ने Redmi Note 7 Pro को iPhone और OnePlus से बताया बेहतर 

Posted By: Shilpa Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप