जागरण संवाददाता, लुधियाना। Punjab Chunav 2022ः  कांग्रेस ने शनिवार काे 86 उम्मीदवाराें की पहली सूची जारी कर दी है। लुधियाना की 14 में से 9 सीटों पर उम्मीदवार घाेषित कर दिए है। हालांकि अभी जगराओं, गिल, समराला, साहनेवाल व लुधियाना दक्षिण में प्रत्याशी घोषित नहीं किए गए हैं। समराला में अमरीक सिंह ढिल्लो का परिवार एकमात्र मजबूत दावेदार है, उनका टिकट घोषित नहीं होना हैरानीजनक है।

पार्टी ने खन्ना से गुरकीरत काेटली, लुधियाना ईस्ट से संजय तलवाड़, आत्मनगर से कंवलजीत सिंह कड़वाल, लुधियाना सेंट्रल से सुरिंदर डावर, लुधियाना वेस्ट से भारत भूषण आशु, लुधियाना नार्थ से राकेश पांडे, पायल (एससी) से लखविंदर सिंह लक्खा, दाखा से कैप्टन संदीप संधू और रायकाेट (एससी) से कामिल अमर सिंह काे मैदान में उतारा है।

यह भी पढ़ें-पंजाब विधानसभा चुनावः लुधियाना प्रशासन ने की कार्रवाई, 4 राजनीतिक दलाें को 25 नोटिस किए जारी

कोटली तीसरी बार ठाेकेंगे ताल

खन्ना से गुरकीरत सिंह कोटली लगातार तीसरी बार चुनाव लड़ने जा रहे हैं। पिछले दोनों चुनावों में उन्होंने जीत हासिल की है। वे पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री भी हैं। 2012 में उन्होंने अकाली दल के रणजीत सिंह तलवंडी को हराया। 2017 में तिकोने मुकाबले में आप के अनिल दत्त फल्ली को हराया। खन्ना में इस बार चौकोना मुकाबला होने की संभावना है। 2017 में अकाली दल के रणजीत सिंह तलवंडी तीसरे स्थान पर रहे थे।

यह भी पढ़ें-पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने जारी की 86 प्रत्याशियों की सूची, मोगा से मालविका सूद होंगी प्रत्याशी

चन्नी को दो टिकटें, तो हमें क्यों नहीं : धीमान

संगरूर।  अमरगढ़ से विधायक सुरजीत धीमान ने कहा है कि अगर मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को दो जगह पर खड़ा कर एक परिवार में एक टिकट देने का कोरम तोड़ा जाता है तो बाकी नेताओं पर भी यह लागू होना चाहिए। तीन बार विधायक रहे सुरजीत धीमान अपने लिए अमरगढ़ से और अपने भतीजे जस¨वदर धीमान के लिए सुनाम से टिकट की मांग कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें-कोविड वैक्सीन की दाेनाें डाेज लगवाने के बाद ही यात्रियाें काे ट्रेन में मिलेगी सीट, जानें रेलवे का नया नियम

Edited By: Vipin Kumar