जागरण संवाददाता, लुधियाना। लुधियाना के उद्यमी बाबी जिन्दल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, आरबीआई और वित्तमंत्री को पत्र लिखकर पंजाब के बैंकों की ओर से उद्यमियों को परेशान किए जाने के मामले का ट्वीट किया है। टवीट् में उन्होंने लिखा है कि लोन रिस्ट्रक्चरिंग को लेकर बैंको की ओर से अब सिबिल स्कोर खराब होने की बात कही जा रही है। इसके चलते उद्यमी इस स्कीम का लाभ लेने से कतरा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आरबीआई को इसको लेकर बैंको को स्पष्ट जानकारी देनी चाहिए।

लुधियाना के उद्यमी बाबी जिंदल द्वारा पीएम मोदी को किया गया ट्वीट।

बैंक उद्यमियों को लोन के लिए जाते समय यह कहकर लोन न लेने की बात कह रहे हैं कि अगर आप लोन लेंगे, तो आपका सिब्बल खराब हो जाएगी। ऐसे में कोई भी इंडस्ट्री अपना सिब्बल खराब नहीं करना चाहती और मजबूरी के बावजूद भी लोन लेने से कतरा रहे हैं। इसलिए सरकार को चाहिए कि तत्काल इसको लेकर गाइडलाइन जारी की जाए।

यह भी पढ़ें-  इंडस्ट्री व युवाओं के गैप को समाप्त करने को CICU फिनिशिंग स्कूल करेगा काम, ग्रेजुएट, डिप्लोमा होल्डर्स व एमबीए पास को मिलेगी ट्रेनिंग

बाबी जिन्दल ने कहा कि इस स्कीम के तहत एमएसएमई इंडस्ट्री के पुराने लोन को रिस्ट्रक्चर कर उनका मोरेटेरियम पीरियड बढ़ सकता है, लेकिन इस आरबीआई लोन रिस्ट्रक्चरिंग स्कीम का एमएसएमई इंडस्ट्री फायदा नहीं ले पा रही है। क्योंकि बैंक अपने कस्टमर को डरा रही हैं कि अगर आपने अपने पुराने लोन रिस्ट्रक्चर किए तो आपका सिबिल खराब हो जाएगा। इसलिए हमने प्रधानमंत्री, वित्तमंत्री और आरबीआई से निवेदन किया है कि आरबीआई बैंको को निर्देश दे कि इस स्कीम के तहत लोन रिस्ट्रक्चर करने पर सिब्बल खराब नहीं होगा, ताकि इस स्कीम का लाभ ज्यादा से ज्यादा एमएसएमई इंडस्ट्री उठा सके।

यह भी पढ़ें- Meritorious Schools Admission : मेरिटोरियस स्कूलों में दाखिले को लेकर हर जिले में बनेगा एक सेंटर, इस तारीख को होगी परीक्षा

Edited By: Vinay Kumar