जागरण संवाददाता, लुधियाना। Meritorious Schools Admission मेरिटोरियस स्कूलों में दाखिले को लेकर कोई न कोई संशय बरकरार रहता है। अब मेरिटोरियस स्कूलोंं में होने वाले दाखिले की अंतिम तिथि तो नहीं बढ़ाई लेकिन 15 और 16 सितंबर में से किसी एक दिन कामन एंट्रेंस टेस्ट(सीईटी) की जो बात कही जा रही थी, उसे अब अक्तूबर पर कर दिया गया है। खैर अब भी टेस्ट के लिए तारीख बढ़ाना कोई नई बात नहीं लग रही क्योंकि इससे पहले विभाग मेरिटोरियस स्कूलों में रजिस्ट्रेशन की तिथि आठ बार बढ़ा चुका है और अब नौंवी बार तीन अक्तूबर को परीक्षा तिथि तय कर दी है।

द सोसायटी फार प्रमोशन आफ क्वालिटी एजूकेशन फार वूअर एंड मेरिटोरियस स्टूडेंटस आफ पंजाब की ओर से राज्य भर में दस मेरिटोरियस स्कूल चलाए जा रहे हैं। सोसायटी ने इस बार तर्क दिया है कि पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड(पीएसईबी) के मिड टर्म परीक्षाएं चल रही है जिसके चलते अब अक्तूबर में यह टेस्ट लिया जा रहा है। वहीं बता दें कि राज्य भर के दस मेरोटिरयस स्कूलों में ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षा ओं में विभिन्न स्ट्रीम के लिए 4600 सीटें हैं। मेरिटोरियस स्कूलों के लिए रजिस्ट्रेशन 31 अगस्त ही बंद हो चुकी है और साढ़े बीस हजार के करीब विद्यार्थियों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है।

दो घंटे की होगी परीक्षा

मेरिटोरियस स्कूलों में दाखिले के लिए होने जा रहे कामन एंट्रेंस टेस्ट (सीईटी) तीन अक्तूबर को दोपहर 2.30 बजे से 4.30 बजे तक होगी जोकि कुल दो घंटे के लिए होगी। पंजाब मेरिटोरियस स्कूल्स के एसिसटेंट प्रोजेक्ट डायरेक्टर इंद्रपाल सिंह मल्होत्रा के कहा हर जिले में टेस्ट के लिए एक ही सेंटर बनाया जा रहा है। सेंटर कहां होगा, इसका पीएसईबी तय करेगा। कोरोना गाइडलाइंस को फालो कर ही विद्यार्थियों के बैठने की व्यवस्था की जाएगी।

22 अक्तूबर तक चलेगी काउंसलिंग

सीईटी टेस्ट में जो विद्यार्थी पास होंगे, उसके बाद विद्यार्थियों के लिए काउंसलिंग प्रक्रिया चलेगी। हर स्कूल में तय सीटों के अनुसार ही विद्यार्थियों को सीट अलाट की जाएगी। इंद्रपाल सिंह मल्होत्रा ने कहा कि सीईटी टेस्ट का परिणाम तकरीबन पंद्रह दिनों के बीच बोर्ड घोषित कर देगा। उसके बाद 22 अक्तूबर तक काउंसलिंग प्रक्रिया पूरी होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि स्थिति अगर ऐसे ही सामान्य रही तो एक नवंबर से मेरिटोरियस स्कूलों में क्लासिस शुरू होने की पूरी उम्मीद है।

Edited By: Vinay Kumar