आनलाइन डेस्क, लुधियाना/अमृतसर/पटियाला। Dussehra 2022: पंजाब में दशहरे का पर्व बुधवार काे हर्षाेल्लास के साथ मनाया गया। लुधियाना, पटियाला, बठिंडा, मुक्तसर साहिब, अमृतसर, जालंधर और बरनाला में इस बार सबसे ऊंचे रावण के पुतलाें का दहन किया गया। दाे साल तक काेविड के चलते दशहरे का रंग फीका रहा था। हालांकि इस बार लाेगाें में उत्साह दिखाई दे रहा है। लुधियाना के दरेसी मैदान में 110 फीट ऊंचे रावण का दहन किया गया। महानगर में कुल 7 स्थानों पर रावण दहन किया गया।

लुधियानाः दरेसी मैदान में 110 फुट ऊंचे रावण का दहन

लुधियाना के पुलिस कमिश्नर कौस्तुभ शर्मा ने जैसे ही बटन दबाया, तो पटाखों की गूंज के बीच 110 फुट का रावण धू धू कर जल उठा। इसी के साथ बुराई पर अच्छाई की जीत का जश्न मना। चारों ओर जय श्री राम के नारों से पूरा रामलीला दरेसी मैदान राममय की गूंज से गूंज उठा। यह नजारा शहर की प्राचीनतम श्री रामलीला कमेटी की ओर दरेसी में बुधवार को आयोजित रावण दहन के मौके पर दिखा। इस भव्य उत्सव में हजारों राम भक्तों ने हाजिरी भरी। इससे पहले भगवान राम परिवार की विशाल शोभायात्रा ठाकुरद्वार नौहिरया से निकाली गई। उधर, शहर के अलग-अलग दशहरा ग्राउंड्स पर उत्साह के साथ रावण दहन हुआ।

अमृतसरः दशहरा ग्राउंड में जला सबसे ऊंचा 100 फुट का रावण

इस बार महानगर में 7 बड़े आयोजन किए गए। इसके अलावा गली मोहल्लों में भी छोटे कद के पुतले जलाए गए। श्री दुर्ग्याणा कमेटी द्वारा दशहरा ग्राउंड पर मनाए जाने वाले दशहरा पर्व के लिए रावण का पुतला 100 फुट तथा एक अन्य पुतला 90 फुट का बनाया गया।

पटियालाः 50 फीट का रावण

शाही शहर में आठ और फतेहगढ़ साहिब में अलग-अलग आठ स्थानों पर इस बार दशानन के पुतलों का दहन किया गया। पटियाला में सबसे ऊंचा रावण का पुतला बस स्टैंड के नजदीक वीर हकीकत राय ग्राउंड में श्री राम सेवा समिति और एसएसटी नगर में राष्ट्रीय ज्योति कला मंच दशहरा कमेटी की तरफ से 50 फुट का बनाया गया। मंडी गाेबिंदगढ़ में 60 फीट का रावण जलाया गया।

मुक्तसरः 40 फीट के रावण का दहन

श्री मुक्तसर साहिब। श्री राम सेवा समिति की तरफ से दशहरा कोटकपूरा रोड स्थित सरकारी कालेज में मनाया गया। श्री राम सेवा समिति के सदस्य सुरिंदर धवन ने बताया कि रावण का पुतला 40 फीट का बनाया गया। जबकि कुंभकरण और मेघनाथ के पुतले 35-35 फीट के बनाए गए थे।

बठिंडाः शहर में जला 70 फुट का रावण

बठिंडाः इस बार शहर में पांच जगहों पर दशहरा मनाया गया। प्रबंधकों ने रावण, कुंभकर्ण और मेघनाद के 45 से लेकर 70 फीट तक ऊंचे पुतले बनवाए थे। एमएसडी स्कूल, एसएसडी गर्ल्स कालेज, रेलवे ग्राउंड, अर्जुन नगर और एनएफएल में दशहरा पर्व मनाया गया। यहां रेलवे ग्राउंड में बीते 111 साल से दशहरा मनाया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें-Weather Update Today: दशहरे पर कैसा रहेगा पंजाब का मौसम, जानिए माैसम विभाग का ताजा अलर्ट

यह भी पढ़ें-Stubble Burning: पंजाब में धड़ल्ले से जल रही पराली, आबाेहवा हुई खराब; अमृतसर में सबसे ज्यादा मामले

Edited By: Vipin Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट