जालंधर, जेएनएन। बस्ती बावा खेल में चल रहे हनी ट्रैप के खेल का पर्दाफाश करते हुए थाना बस्ती बावा खेल की पुलिस गिरोह की किंगपिन सहित आठ लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपितों में से एक 14 साल की नाबालिग भी थी, जिसने बुधवार को लखबीर नामक युवक को कमरे में बुला कर पहले उसके कपड़े उतरवाए और फिर अपने कपड़े उतारे। इसके बाद उसकी वीडियो बना कर ब्लैकमेल किया गया। गिरफ्तार आरोपितों में किंगपिन सुमन उर्फ सीमा, रेखा उर्फ प्रिया विवेक, कर्ण, जसविंदर, विवेक कुमार, पवनप्रीत उर्फ ज्योति, सागर व 14 साल की लड़की शामिल है। सभी को वीरवार अदालत में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया गया है।

जांच में सामने आया है कि सुमन उर्फ सीमा युवकों को ब्लैकमेल कर जल्द अमीर बनने के लिए यह सब कर रही थी और इसके लिए उसने पूरा गिरोह तैयार कर लिया था। थाना प्रभारी गगनदीप सिंह सेखों ने बताया कि वेरका मिल्क प्लांट के पास रहने वाले भूपिंदर सिंह ने शिकायत दी थी कि उसके दोस्त लखबीर सिंह को शहीद बाबू लाभ सिंह नगर में कुछ लोगों ने बंधक बना रखा है और तीन लाख रुपये की फिरौती मांग रहे थे। किसी तरह मामला एक लाख रुपये में तय हुआ। इसके बाद पुलिस ने भूपिंदर सिंह के हाथ एक लाख रुपये भेजे और फिर वहां पर छापेमारी कर कमरे में बंद लखबीर सिंह को बरामद कर लिया। उसके मिलने के बाद हनी ट्रैप गिरोह का मामला सामने आया।

यह भी पढ़ें - Jalandhar Weekend Power Cut : जालंधर के इन इलाकों में शनिवार से रविवार तक लगेगा 31 घंटे लंबा पावर कट

लखबीर सिंह ने बताया कि विवेक नाम के युवक ने उससे दोस्ती की और फिर उसे चाय पर बुलाया। वहां पर एक कमरे में बिठाया और एक 14 साल की लड़की को बुला लिया। उसने उसे लड़की के साथ संबंध बनाने के लिए उकसाया, लेकिन वो नहीं माना। इसी बीच लड़की ने अपने कपड़े उतार दिए और उसे भी अपने कपड़े उतारने के लिए कहा। जब उसने मना किया तो लड़की ने शोर मचा कर लोगों को इकट्ठा करने की धमकी दी, जिससे डर कर उसने अपने कपड़े उतार दिए। इसके बाद लड़की ने शोर मचा दिया। तुरंत कुछ महिलाएं और पुरुष कमरे में आ गए और उसे धमकाने लगे कि वह लड़की के साथ गलत काम कर रहा था। उन्होंने मौके पर पुलिस बुलाने की धमकी भी दी। वह उनकी मिन्नतें करने लगा, जिसके बाद उनमें से सीमा नामक महिला ने उसे बचाने की एवज में तीन लाख रुपये मांगे और कहा कि यदि पैसे न दिए तो वीडियो वायरल कर दी जाएगी। उसने अपने दोस्त भूपिंदर सिंह को फोन किया और सारी बात बताई।

भूपिंदर ने सीमा से बात की तो मामला एक लाख रुपये में खत्म हुआ। इन लोगों ने कहा कि जब तक पैसे नहीं आएगा, तब तक वे लोग लखबीर सिंह को बंधक बना कर रखेंगे। थाना प्रभारी गगनदीप सिंह ने बताया कि रिमांड पर पूछताछ के बाद और भी लोगों के नाम सामने आ सकते हैं।

हर बार बुलाते थे नई लड़की

पुलिस जांच में सामने आया है कि सीमा उर्फ सुमन खुद भी और अपने साथियों से भी युवाओं को अपने जाल में फंसाती थी। जब भी कोई नया लड़का घर पर बुलाया जाता तो उसके लिए नई लड़की पहले से ही बुला ली जाती थी। जो भी लड़की के साथ संबंध बनाता, उसकी वीडियो बना ली जाती और बाद में उसे ब्लैकमेल कर मोटी रकम वसूल की जाती थी। अभी तक यह गिरोह दर्जन भर से ज्यादा लोगों को अपने जाल में फंसा कर लाखों रुपये वसूल चुका है। थाना प्रभारी गगनदीप सिंह ने बताया कि रिमांड के दौरान पता लगाया जाएगा कि अभी तक कहां-कहां से कितनी लड़कियां बुलाई गई हैं और सभी को गिरफ्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें - नशे में धुत ससुर कमरे में अकेली बहू को अपनी ओर खींच करने लगा अश्लील हरकतें, लेकिन पहले से बिछा था जाल

मोबाइल बताएंगे कितने लोगों को किया ब्लैकमेल

पुलिस ने सारे आरोपितों के मोबाइल जब्त कर लिए हैं। वीडियो बनाने में इस्तेमाल होने वाला कैमरा भी बरामद कर लिया गया है और उनको फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। मोबाइल में उन सारे लोगों की वीडियो मौजूद हैं, जिनको गिरोह ने अपना शिकार बनाया है। वहीं उन लोगों की लिस्ट भी निकलवाने का प्रयास किया जा रहा है जिनको निशाना बनाया जाना था। सभी का करवाया कोरोना टेस्ट थाना प्रभारी गगनदीप सिंह ने बताया कि सारे आरोपितों का कोरोना टेस्ट करवाया गया है। दो दिन के बाद उनकी रिपोर्ट आएगी। रिपोर्ट आने के बाद उनको फिर से अदालत में पेश किया जाएगा और अगली कार्रवाई की जाएगी।