जेएनएन, चंडीगढ़/सोलन। मशहूर पंजाबी गायक व अभिनेता परमीश वर्मा पर जानलेवा हमला करने वाले बदमाश को हिमाचल प्रदेश के बद्दी में गिरफ्तार किया गया है। उसे हरियाणा पुलिस की टीम ने गिरफ्तार किया है। हरविंदर सिंह उर्फ हैप्पी नामक यह युवक बद्दी का ही रहने वाला और गैंगस्‍टर दिलप्रीत सिंह के गैंग का बताया जा रहा है। हैप्‍पी ने शुक्रवार देर रात परमीश पर गोलियां चलाई थीं और इससे वह गंभीर रूप से घायल हाे गए थे। दूसरी ओर, फाेर्टिस अस्‍पताल में भर्ती परमीश की हालत में काफी सुधार है।

हरियाणा पुलिस ने हरविंदर सिंह उर्फ हैप्पी को रविवार सुबह तड़के दबिश देकर गिरफ्तार किया। हरियाणा पुलिस की टीम उसे अपने साथ ले गई। उससे पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि हरविंदर गैंगस्टर दिलप्रीत सिंह की गैंग का सदस्य है। बता दें कि पंजाबी गायक व अभिनेता परमीश वर्मा पर शुक्रवार देर रात मोहाली के सेक्टर-91 में गोली चलाई गई थी।

अस्‍पताल में भर्ती परमीश वर्मा।

इस हमले में परमीश को दो गोलियां लगीं, एक पैर और दूसरा पेट पर। उनके साथ मौजूद दोस्‍त कुलवंत काे भी गोली लगी थी। कुलवंत को गोली पैर में लगी थी। परमीश पर हमले की जिम्मेदारी गैंगस्टर दिलप्रीत सिंह ने ली थी व फेसबुक पर पोस्ट कर परमीश वर्मा को फिर से जान से मारने की धमकी दी थी।

यह भी पढ़ें: अभिनेत्री शमायरा ने कहा, हर इंडस्ट्री में हो रहा कास्ट‍िंग काउच

हमले के बाद दिलप्रीत सिंह ने फेसबुक पर रिवॉल्वर के साथ एक फोटो शेयर की थी और हमले की जिम्मेदारी ली थी। गैंगस्टर ने परमीश वर्मा को धमकी दी है कि वह इस बार तो बच गए, लेकिन आने वाले वक्त में वह नहीं बच पाएगा।

परमीश की हालत में सुधार, कहा- किसी की मां न रोए

दूसरी ओर, फोर्टिस अस्‍पताल में भर्ती परमीश की हालत में रविवार काे काफी सुधार हुआ है। परमीश को शनिवार शाम को ही होश आ गया था। इसके बाद उन्‍होंने फेसबुक पर पोस्ट किया- 'बाबे नानक की कृपा से मैं ठीक हूं। सारे फैंस की दुआएं मेरे साथ है। मेरी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है। जिस तरह आज मेरी मां रो रही है, पंजाब के किभी भी पुत्त की मां न रोए। सरबत दा भला।' इस पोस्ट के साथ उन्होंने गुरु नानक देव जी की फोटो भी शेयर की। दूसरी तरफ दो गैंगस्टरों ने भी फेसबुक पर परमीश पर गोलियां चलाने की जिम्मेदारी ली थी।

पुलिस के अनुसार, परमीश शुक्रवार रात को चंडीगढ़ स्थित एलांटे मॉल में अपनी फिल्म 'गोलक बुगनी बैंक ते बटुआ' की प्रमोशन के लिए गए थे। रात करीब एक बजे कुलवंत चहल के साथ फॉच्र्यूनर गाड़ी में वहां से सेक्टर-91 स्थित अपने घर के लिए निकले। मॉल से ही बदमाशों ने एक क्रेटा कार में परमीश का पीछा करना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें: जीना इसी का नाम है : दाेनों हाथ कट गए फिर भी हर चुनौती से किया दो-दो हाथ

पुलिस के अनुसार, कार में सवार करीब छह युवकों ने सेक्टर-91 /74 के टी प्वांइट के पास उनको घेर लिया। उसके बाद परमीश व उनके दोस्त को कार से नीचे उतरने के लिए कहा। जब वह नहीं उतरे तो हवा में छह फायर किए। परमीश व कुलवंत के कार से निकलने के बाद अज्ञात युवकों ने उन पर तीन गोलियां चलाईं। दो गोलियां परमीश व एक कुलवंत चहल को लगी। घायल परमीश ने मौके से ही एसएसपी कुलदीप सिंह चहल को फोन किया। एसएसपी कुलदीप सिंह चहल ने बताया कि मौके से छह खोल मिले है। ।

'वीरे गाल नहीं कडणी' हर किसी जुबान पर

परमीश अपने गीत 'वीरे गाल नहीं कडणी' से हर युवा की जुबान पर आ गए थे। युवाओं में परमीश की काफी लोकप्रियता है। 'गाल नहीं कडणी' के अलावा 'टोर नाल छड़े' भी इन दिनों लोगों की जुबान पर छाया हुआ है।

दो गैंग ने फेसबुक पर ली जिम्मेदारी

परमीश पर हमले की जिम्‍मेदारी लेने के लिए दो गैंग सामने आए। सबसे पहले गैंगस्टर दिलप्रीत सिंह ने जिम्मेदारी ली। इसके बाद संपत नेहरा गैंग ने जिम्मेदारी ली। एसएसपी ने बताया कि गोलियां किस ने चलाई ये नहीं बता सकते लेकिन क्राइम हुआ है और आरोपियों को पकड़ा जाएगा। गोली चलाने वाले संपत नेहरा गैंग के भी हो सकते हैं।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!