चंडीगढ़/कपूरथला, [कुलदीप शुक्ला/हरनेक सिंह जैनपुरी]। पंजाब के विधायक सुखपाल सिंह खैहरा के सेक्टर 5 स्थित कोठी नंबर 6 में ईडी की टीम ने सुबह आठ बजे रेड की थी। अब 12 बजे की चली कार्रवाई,  जिसमें मनी लॉन्ड्रिंग मामले में खैहरा से सवाल जवाब, तलाशी और दस्तावेजों की पड़ताल के बाद टीम शाम को आठ बजे वापस लौट गई है। ईडी के अधिकारियों का कहना है कि पूरी पड़ताल की जानकारी अपने आला अधिकारियों को सौंपेंगे।

बता दें कि खैहरा के पैतृक गांव रामगढ़ में स्थित उनके घर पर भी ईडी की टीम ने मंगलवार सुबह दबिश दी। उनका पैतृक गांव रामगढ़ कपूरथला जिले के भुलत्थ तहसील में स्थित है। ईडी टीम ने मनी लांड्रिंग मामले में खैहरा के आवासों में रेड की है। खैहरा के वकील का आरोप है कि किसान आंदोलन में शामिल होने के कारण उनके खिलाफ यह कार्रवाई हुई है।

यह भी पढ़ेंः Punjab Budget 2021 : अब 24 घंटे खुलेंगी दुकानें व रेस्‍टोरेंट, बजट में राहतों की भरमार, जानें क्‍या हैं 11 प्रमुख घोषणाएं

चंडीगढ़ में मंगलवार सुबह 8 बजे खैहरा की कोठी पर 3 गाड़ियों में ईडी के अधिकारी पहुंचे। ईडी की टीम ने सुखपाल खैरा से मनी लांड्रिंग के मामले में सवाल जवाब किए। फिलहाल इस मामले में सुखपाल खैहरा से बाहर ही बैठकर पूछताछ कर रही है। खैहरा ने कहा कि उन्हें गलत फंसाया जा रहा है, उनकी किसी भी तरह की मनी लांड्रिंग में भूमिका नहीं है।

गांव में ही था खैहरा का बेटा महिताब, रेड की भनक लगते ही हुआ गायब

खैहरा के कपूरथला वाले घर में सोमवार रात को उनका बेटा महिताब सिंह रुका था लेकिन रेड की भनक लगते ही वह गाड़ी लेकर वहां से निकल गया। आम तौर पर खैहरा का सारा परिवार चंडीगढ़ में रहता है लेकिन उसका बेटा सोमवार को गांव रामगढ़ में स्थित घर पर था। खैहरा का घर खंगालने के बाद उनके खास माने जाते चचेरे भाई कुलबीर सिंह के घर भी ईडी ने छापेमारी की। कुलबीर सिंह को खैहरा का खजांची माना जाता है। 

चंडीगढ़ के सेक्टर-5 में स्थित सुखपाल खैहरा की कोठी।

यह भी पढ़ेंः Punjab Budget 2021: कैप्‍टन के एजेंडा 2022 पर फोकस मनप्रीत का बजट, हर वर्ग के वोटर को साधने की लगाई जुगत

 

ईडी अधिकारी बोले- पूरा दिन चलेगी रेड

ईडी की कार्रवाई के बीच  खैहरा ने दो आई विटनेस भी बुला लिए हैं। सीनियर एडवोकेट आरएस बैंस ने बताया कि वह आई विटनेस बनने आए थे। लेकिन ईडी के अधिकारियों का कहना है कि उनकी रेड पूरे दिन चलेगी। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन को समर्थन करने की वजह से ईडी की रेड हुई है। इस दौरान ईडी के अधिकारी किसी भी तरह की जानकारी नहीं दे रहे हैं। उनका साफ तौर पर कहना है कि वह सभी जानकारी अपने सीनियर अधिकारियों से ही साझा करेंगे।

वकील का आरोप- किसान आंदोलन में खैहरा के सक्रिय रहने के कारण हुई कार्रवाई

एडवोकेट आरएस बैंस ने कहा कि खैहरा किसान आंदोलन में काफी सक्रिय रहे हैं। इसी वजह से ईडी ने यह कार्रवाई की है। उन्होंने कहा कि ई़डी ने इस कार्रवाई के बारे में कोई जानकारी नहीं दी थी और अब भी अधिकारी बात करने को तैयार नहीं हैं।

बता दें कि विधायक सुखपाल सिंह खैहरा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कृषि सुधार कानूनों को लेकर पैदा हुआ गतिरोध को दूर करने के लिए पंजाब और हरियाणा में विशेष रेफरेंडम लाने को कहा था। खैहरा ने कहा है कि अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकतंत्र में विश्वास रखते हैं तो इस गतिरोध को दूर करने का यही एकमात्र जरिया है। खैहरा ने चेतावनी दी थी कि पंजाब के युवा पहले ही केंद्र की तरफ से भेदभाव पूर्ण रवैया अपनाए जाने की भावना से आहत हैं। अगर अब केंद्र ने उनकी बात को नहीं सुना और उन पर किसी तरह का धक्का करने की कोशिश की तो पंजाब आतंकवाद के काले दौर में भी लौट सकता है। 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Edited By: Vikas_Kumar