Move to Jagran APP

Punjab Politics: 'मान साहब सुख विलास पर कार्रवाई करो या माफी मांगो, नहीं तो अदालत आने के लिए रहो तैयार'; SAD का AAP पर वार

Punjab Politics शिरोमणि अकाली दल ने मुख्‍यमंत्री मान पर निशाना साधा है। उन्‍होंने कहा सुख विलास पर कार्रवाई की जाए या मांफी मांगी जाए। इसके बाद सुखबीर बादल ने कहा कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो सीएम मान अदालत में आने के लिए तैयार रहो। शिअद नेता ने कहा कि भगवंत मान को मुख्यमंत्री बने दो साल हो गए है। क्या वह मजबूर मुख्यमंत्री है।

By Inderpreet Singh Edited By: Himani Sharma Published: Thu, 29 Feb 2024 10:35 PM (IST)Updated: Thu, 29 Feb 2024 10:35 PM (IST)
Punjab Politics: 'मान साहब सुख विलास पर कार्रवाई करो या माफी मांगो, नहीं तो अदालत आने के लिए रहो तैयार'; SAD का AAP पर वार
शिअद अध्‍यक्ष सुखबीर बादल ने भगवंत मान पर निशाना साधा (फाइल फोटो)

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। शिरोमणि अकाली दल ने मुख्यमंत्री भगवंत मान को चुनौती दी है कि सुख विलास को लेकर जो बयानबाजी उन्होंने की है, वह उसे साबित करें। पार्टी के कानूनी विंग के प्रधान अर्शदीप कलेर ने कहा, मुख्यमंत्री भगवंत मान की आदत असली मुद्दों पर से ध्यान भटकाना है।

loksabha election banner

आज जब शुभकरण की मौत पर शून्य एफआईआर दर्ज करने के मामले में मुख्यमंत्री घिरे हुए है तो लोगों का ध्यान भटकाने के लिए उन्होंने सुख विलास का सहारा लिया है।

क्‍या मान हैं मजबूर मुख्‍यमंत्री: भगवंत मान

शिअद नेता ने कहा कि भगवंत मान को मुख्यमंत्री बने दो साल हो गए है। क्या वह मजबूर मुख्यमंत्री है। सुख विलास में अगर कुछ गलत हुआ है तो उन्हें कार्रवाई करने से कौन रोक रहा है। पुलिस और विजिलेंस मुख्यमंत्री के अंडर में ही है। कलेर ने कहा कि या तो मुख्यमंत्री आरोप को साबित करें या लोगों से माफी मांगे, नहीं तो अदालत आने के लिए तैयार रहे। क्योंकि पार्टी उनके खिलाफ मानहानि का एक और मुकदमा दर्ज करेगी।

यह भी पढ़ें: Punjab Politics: 'इको टूरिज्म पॉलिसी के तहत सुखविलास को मिला 108 करोड़ रुपये का लाभ', CM मान ने SAD पर लगाया आरोप

शिअद ने मान पर लगाए गंभीर आरोप

इससे पहले भी बालासर फार्म हाउस के लिए नहर बनाने के झूठे बयानबाजी को लेकर मुख्यमंत्री मानहानि के केस का सामना कर रहे है। अर्शदीप कलेर ने कहा, मुख्यमंत्री ने सारा प्रोपेगंडा किसानी मुद्दे पर से लोगों का ध्यान हटाने के लिए किया है। क्योंकि पंजाब पुलिस ने मान लिया है कि शुभकरण की हत्या पंजाब की नहीं बल्कि हरियाणा की जमीन पर किया गया है।

यह भी पढ़ें: T-Series को HC से बड़ी राहत, Dear Jassi की रिलीज का रास्ता हुआ साफ; लुधियाना अदालत ने फिल्‍म पर लगाई थी रोक

इस पर से ध्यान हटाने के लिए मुख्यमंत्री ने यह बयान दिया है। इससे पहले भी मुख्यमंत्री ने पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पर एक खिलाड़ी से 2 करोड़ रुपये मांगने के आरोप लगाए थे लेकिन आज तक इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं हुआ।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.