चंडीगढ़, [जय सिंह छिब्बर]। पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर पंजाब की सियासत फिर गर्मा गई है। पिछले काफी समय से खामोश सिद्धू के अगले राजनीतिक सफर और कदम को लेकर कयासबाजी तेज हो गई है। उनके आम आदमी पार्टी (AAP) में शामिल होने की अटकलें भी लग रही हैं तो तीसरे मोर्चे के गठन को लेकर भी अनुमान लगाए जा रहे हैं। इस सबके बीच आम आदमी पार्टी के पंजाब अध्यक्ष भगवंत मान ने कहा है कि सिद्धू की छवि साफ है और आप में सभी अच्‍छे लोगों का स्‍वागत है। मान ने यहां तक कह दिया कि पार्टी में सीएम के चेहरे को लेकर भी कोई दिक्‍कत नहीं है।

भगवंत मान ने कहा- पार्टी में सभी अच्‍छे लोगों का स्‍वागत, सिद्धू पर फैसला हाईकमान ही करेगा

यहां पत्रकारों से बातचीत के दौरान भगवंत मान ने आप में सिद्धू के शामिल होने की अटकलबाजियों का खुलकर जवाब दिया। मान से जब पूछा गया कि क्या नवजोत सिंह सिद्धू आम आदमी पार्टी में शामिल हो रहे हैं, तो उन्होंने कहा कि सिद्धू का किरदार साफ है, लेकिन अभी उनके पार्टी में शामिल होने पर कोई आधिकारिक फैसला नहीं लिया गया है। न ही इस पर कोई चर्चा हुई है। जो भी फैसला होगा, वह पार्टी का हाईकमान ही तय करेगा।

पार्टी में शामिल करने पर अभी कोई चर्चा नहीं, हाईकमान ही लेगा अंतिम फैसला

पत्रकारों ने उनसे 2022 में होनेवाले पंजाब विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के सीएम चेहरा के बारे में भी सवाल किया। मान से पूछा गया कि सिद्धू यदि आप में शामिल होते हैं तो क्‍या वह सीएम फेस होंगे, तो उन्‍होंने कहा कि पार्टी में सीएम फेस कोई मुद्दा नहीं है। असली मुद्दे किसानों व खेत मजदूरों की खुदकशी, नशा, खनन, शिक्षा, बिजली और स्वास्थ्य हैं। खुद के सीएम चेहरा होने के सवाल पर भगंवत मान ने कहा, 'पार्टी यदि पोस्टर लगाने की ड्यूटी लगाएगी तो वह भी लगाऊंगा। व्यक्ति विशेष नहीं, पार्टी बड़ी होती है। पिछली गलतियों में सुधार किया जाएगा।'

कांग्रेस विधायक परगट सिंह के आम आदमी पार्टी में शामिल होने की चर्चा के बारे में भगवंत मान ने कहा कि हर अच्छे आदमी का स्वागत है। हर वह व्यक्ति जो अपने हितों को छोड़कर पंजाब के हितों की बात करता है, उसका आप में स्वागत है। पिछली गलतियों में सुधार किया जाएगा।

स्वार्थी, दागी और लालची लोगों के लिए पार्टी के दरवाजे बंद

विधायक सुखपाल खैहरा, कंवर संधू और सुच्चा सिंह छोटेपुर को पार्टी में वापस लेने के सवाल पर मान ने कहा कि इन नेताओं ने अलग पार्टी बनाकर चुनाव लड़ा। इनका जो हश्र हुआ वह सब के सामने है। अब स्वार्थी, दागी और लालची लोगों के लिए आम आदमी पार्टी के दरवाजे बंद हैं।

बोले- दुश्मनी जम कर करो, लेकिन...

भगवंत मान ने कहा कि कुछ लोगों ने खुद ही पार्टी के लिए अपने दरवाजे बंद कर लिए हैं। मुझे कमीना, गद्दार कह कर कीचड़ उछाला गया। उन्होंने कहा- 'दुश्मनी जम कर करो, लेकिन ये गुंजाइश रहे, जब कभी हम दोस्त हो जाएं तो शर्मिंदा न हों।'   

आप की सदस्यता के लिए जारी किया नंबर

पंजाब विधानसभा में नेता विपक्ष हरपाल सिंह चीमा के आवास पर पत्रकारों से बातचीत में भगवंत मान ने कहा कि दिल्ली में विकास की जीत हुई है। दिल्ली का विकास मॉडल देश के हर घर तक पहुंचाया जाएगा। लोगों ने दिल्ली सरकार के स्कूल, अस्पताल, पानी, बिजली, महिला सुरक्षा व जन सरोकार के मुद्दों पर मुहर लगाई है। आप नेताओं ने पार्टी की सदस्यता लेने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर एक मोबाइल नंबर 9871010101 भी जारी किया, जिस पर मिस्ड कॉल करते ही व्यक्ति पार्टी के साथ जुड़ जाएगा। यह अभियान 23 मार्च तक चलेगा।

दिल्ली का शिक्षा बजट सबसे ज्यादा

मान ने कहा कि दिल्ली में बजट का शिक्षा पर 26 फीसद खर्च किया जाता है। गुजरात में 3, पंजाब में 10, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में 13 फीसद खर्च होता है। इसी तरह दिल्ली में सरकारी स्कूलों का बाहरवीं का परिणाम 96 प्रतिशत, गुजरात में 73.27, पंजाब में 86, उत्तर प्रदेश में 70 और हरियाणा में 76 फीसद रहा है। सेहत के क्षेत्र में दिल्ली में बजट का 14 फीसद, पंजाब में 3.7, उत्तर प्रदेश में 5.4 और हरियाणा में 4.5 फीसद खर्च किया गया।    

पूर्व कांग्रेस विधायक, अकाली व पीईपी के नेताओं ने आप का दामन थामा

कांग्रेस, शिरोमणि अकाली दल और पंजाब एकता पार्टी के पांच नेता आप में शामिल हो गए। शामिल होने वालों में कांग्रेस के पूर्व विधायक राम कृष्ण कटारिया, नवांशहर की जिला परिषद की पूर्व चेयरमैन संतोष कुमारी, कांग्रेस से बागी हो कर जलालबाद से चुनाव लडऩे वाले जगदीप कंबोज गोल्डी, यूथ अकाली दल मानसा के पूर्व जिला प्रधान गुरप्रीत सिंह और पंजाब एकता पार्टी की कोर कमेटी के सदस्य लखबीर सिंह राय शामिल हैं।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें: परिवार के पांच लाेगों की सामूहिक खुदकुशी मामले में डीएसपी व पूर्व डीआइजी सहित छह दोषी करार


 

यह भी पढें: रेलवे पश्चिम एक्‍सप्रेस ट्रेन का रूट बदलेगा, अब चंडीगढ़ होते हुए जाएगी अमृतसर


यह भी पढ़ें: महाशिवरात्रि पर 117 साल बाद शनि और शुक्र का दुर्लभ योग, विष दोष व सर्प दोष से मिलेगी मुक्ति

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!