जोधपुर, एएनआइ/जेएनएन। Amit Shah In Jodhpur. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को जोधपुर में कहा कि चाहे सभी पार्टियां के एक साथ आ जाएं पर भाजपा नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) पर एक इंच भी पीछे नहीं हटेगी। इस मौके पर शाह ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। अमित शाह को सुनने के लिए भारी भीड़ पहुंची। इस दौरान अमित शाह ने जोधपुर में पाकिस्तानी शरणार्थियों से भी मुलाकात की।

राहुल पर साधा निशाना

अमित शाह ने कहा कि राहुल बाबा कानून पढ़ा है, तो कहीं पर भी चर्चा करने के लिए आ जाओ। नहीं पढ़ा है तो मैं इटैलियन में इसका अनुवाद करके भेज देता हूं, उसको पढ़ लीजिए।

नरेंद्र मोदी के शासन में किसी को डरने की जरूरत नहीं

अमित शाह ने कहा कि ये नरेंद्र मोदी का शासन है, किसी को भी डरने की जरूरत नहीं है। उनके मुताबिक, बेशुमार अत्याचार के बाद जो यहां आएं हैं, मोदी जी की सरकार आप सभी को नागरिकता देकर भारतीय होने का गौरव प्रदान करने जा रही है।

ममता दीदी से डरने की जरूरत नहीं

ममता दीदी कह रही हैं कि आपकी लाइने लग जाएंगी, आपसे प्रूफ मांगे जाएंगे। मैं बंगाल में बसे हुए सारे शरणार्थी भाइयों को कहना चाहता हूं कि आपको कोई प्रताड़ना नहीं झेलनी पड़ेगी, आपको सम्मान के साथ नागरिकता दी जाएगी। दीदी से डरने की जरूरत नहीं है। मैं ममता दीदी को कहना चाहता हूं कि बंगाली भाषी शरणार्थी हिंदू, दलितों ने आपका क्या बिगाड़ा है, क्यों इनकी नागरिकता का विरोध कर रही हो?।

राहुल, ममता व केजरीवाल को जवाब देने के लिए इस नंबर पर करें मिस्ड कॉल

मेरा आप सबसे करबद्ध निवेदन है कि राहुल बाबा, ममता दीदी, केजरीवाल की टोली को जवाब देने के लिए अपने मोबाइल से 88662-88662 पर मिस्ड कॉल देकर नरेंद्र मोदी जी को नागरिकता संशोधन कानून के लिए अपना समर्थन दीजिए।

सीएए के विरोध के बजाय कोटा में बच्चों की मौत पर ध्यान केंद्रित करें गहलोत

राजस्थान के जोधपुर में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि गहलोत जी, इस (नागरिकता संशोधन अधिनियम) का विरोध करने के बजाय, जो बच्चे रोज कोटा में मर रहे हैं, उन पर अपना ध्यान केंद्रित करें, कुछ चिंताएं दिखाएं, मांएं आपको कोस रही हैं।

जोधपुर में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति के लिए कांग्रेस वीर सावरकर जैसे महान व्यक्तित्व के खिलाफ बोल रही है। कांग्रेसियों को खुद पर शर्म आनी चाहिए।

देश पर जितना अधिकार मेरा उतना ही शरणार्थी का भीः शाह 

जेएनएन के मुताबिक, धर्म के आधार पर अन्य देशों से प्रताड़ित होकर आए शरणार्थियों को अब चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि उनका भी इस भारत पर उतना ही अधिकार है जितना कि मेरा है। शरणार्थियों के अब अच्छे दिन आ गए हैं। यदि सारे विरोधी दल एक हो जाएं तो भी सीएए और नागरिकता संशोधन कानून से भाजपा एक इंच भी पीछे नहीं होगी। यह कहना है भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और देश के गृह मंत्री अमित शाह का। शाह भारतीय जनता पार्टी की ओर से आयोजित जन जागरण अभियान सभा को जोधपुर में संबोधित कर रहे थे।

सीएए और एनआरसी पर कॉन्ग्रेस और अन्य पार्टियों के दुष्प्रचार अभियान के खिलाफ जन जागरण अभियान के तहत आयोजित सभा में अमित शाह ने कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि धर्म के आधार पर बंटवारा कांग्रेस ने किया था, जिसका दंश आज भी अन्य देशों में रह रहे अल्पसंख्यक समुदाय के लोग झेल रहे हैं। लियाकत नेहरू समझौते का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि 56 इंच की छाती वाले मोदी ने वोट बैंक की चिंता किए बगैर अपना वादा निभाया है। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि बांग्लादेश पाकिस्तान और अफगानिस्तान में अल्पसंख्यक कहलाने वाले अन्य धर्मों के लोगों का जबरन शोषण कर उनका धर्म परिवर्तन करवाया दिया जाता है। लोगों को मार दिया गया। इन मुस्लिम देशों में रहने वाली अन्य धर्मों की बहन बेटियों की इज्जत से खेला गया, उस समय सबसे बड़ा मानव अधिकारों का उल्लंघन हुआ था, लेकिन किसी ने आवाज नही उठाई।

शाह ने ममता दीदी, राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल का नाम लेकर वोट बैंक की राजनीति के चलते इस प्रताड़ना के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया। उन्होंने नागरिकता कानून के लिए महात्मा गांधी-नेहरू के कथनों का जिक्र करते हुए सवाल पूछा कि क्या वे भी सांप्रदायिक थे। उन्होंने कहा कि वोट बैंक की राजनीति के कारण कांग्रेस इस मुद्दे का विरोध कर रही हैं।

जनता के बीच जाएगी भाजपा

अमित शाह ने कहा कि जनता को गुमराह करना अब इतना आसान नहीं है और भाजपा कांग्रेस के दुष्प्रचार के खिलाफ आम जनता के पास जाएगी। उनको यह स्पष्ट करेगी यह नागरिकता देने का कानून है ना कि लेने का।उन्होंने कहा कि पांच तारीख से तीन करोड़ लोगों के घर जाकर यह बताया जाएगा। इसके साथ ही 500 सभाओं के द्वारा कांग्रेस के द्वारा किए गए दुष्प्रचार की भ्रांति को मिटाया जाएगा।

जनजागरण अभियान के लिए टोल फ्री नंबर की शुरुआत

सीएए व एनआरसी के समर्थन में जन जागरण सभा के साथ इस अभियान को सफल बनाने के लिए टोल फ्री नंबर की भी घोषणा की गई, जिसमें कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सभी से कर बद्ध निवेदन किया कि राहुल गांधी, ममता दीदी, केजरीवाल एंड पार्टी और लेफ्ट पार्टियों को जवाब देते हुए अपने मोबाइल से 88662 88662 नंबर पर मिस कॉल देकर नरेंद्र मोदी के नागरिकता संशोधन कानून को अपना समर्थन दें।

गहलोत पर भी साधा निशाना

जन जागरण सभा में सभी वक्ताओं ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को उनके गृह नगर में घेरने का खूब प्रयास किया सभी ने अपने उद्बोधन में गहलोत की नीतिगत विफलताओं को उजागर किया अमित शाह ने गहलोत के द्वारा चिदंबरम को लिखी गई चिट्ठियों का जिक्र करते हुए घोषणा पत्र में नागरिकता को लेकर दिए गए वादे को याद दिलाया, लेकिन साथ ही वोट बैंक के कारण इसे पूरा करने की हिम्मत नहीं होने की बात कही इसके अलावा सतीश पूनिया गजेंद्र सिंह शेखावत अर्जुन राम मेघवाल गुलाबचंद कटारिया ने भी अपने उद्बोधन में गहलोत को आड़े हाथों लिया।

कांग्रेस का दलित विरोधी चेहरा हुआ उजागर

अमित शाह ने कहा कि अन्य देशों से प्रताड़ित होकर अपनी जान बचाकर सब कुछ छोड़ कर जो लोग भारत की और आए हैं, उनमें 70 फीसद दलित हैं। देश का दलित विरोध करने वालों की और बारीक नजर से सब कुछ देख रहा है। दलितों का विरोध करने वाले पार्टियों से सवाल पूछते हुए शाह ने कहा कि इन बेघर हुए लोगों ने आपका क्या बिगाड़ा है, जिससे कि आप इस कानून के खिलाफ खड़े हो गए हैं।

केंद्रीय गृह मंत्री का जोरदार स्वागत

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का जोधपुर पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया गया। दोपहर में विशेष विमान से जोधपुर पहुंचे। जोधपुर पहुंचने पर केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री व पाली सांसद पीपी चौधरी, राज्यसभा सांसद रामनारायण डूडी व नारायण पंचारिया, सांसद देवजी पटेल, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ,उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र सिंह राठौड़, पूर्व जिला प्रमुख पूनाराम चौधरी, पूर्व विधायक जोगाराम पटेल, भाजपा शहर जिलाध्यक्ष देवेंद्र जोशी सहित कई भाजपा नेताओं ने उनकी अगवानी की।

सीएम अशोक गहलोत ने कही ये बात

इस बीच, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने शुक्रवार को ट्वीट में किया है कि गृहमंत्रीजी मेरे जिले में आ रहे हैं, उनका हार्दिक स्वागत है। प्रधानमंत्री जी मन की बात कहते थे, लोग सुनते थे। ऐसी क्या स्थिति बन गई, अब उनको सीएए, एनआरसी व एनपीआर लेकर सफाई देनी पड़ रही है, पूरे मुल्क में नेताओं को भेज रहे हैं कि जाकर जनता को समझाओ। ये नौबत क्यों आई मैं पूछना चाहता हूं।

यह भी पढ़ेंः एनआरसी पर सीएम अशोक गहलोत बोले, देश के भविष्य को लेकर चिंतित है जनता

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस