भोपाल, एएनआइ। मध्य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने शनिवार को कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के आरोप पर सफाई दी है। उन्होंने कहा है कि सिंधिया सच बोल रहे हैं। हमने कहा था कि पहली किस्‍त में केवल 50 हजार रुपये तक का ही किसानों का कर्ज माफ हुआ है। उन्‍होंने कहा, 'हम पहले चरण में 50 हजार तक का कर्ज माफ किया है। इसके बाद अगले चरण में हम दो लाख तक का कर्ज माफ करेंगे। मेरा मानना ​​है कि जनता अपने नेता पर भरोसा करती है।' 

कांग्रेस नेता ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने कमलनाथ पर किसानों की कर्जमाफी को लेकर आरोप लगाया और कहा कि वादा दो लाख रुपये माफ करने का था लेकिन मात्र 50 हजार रुपये ही माफ किए गए। 

ज्‍योतिरादित्‍य ने लगाया था आरोप

भिंड में एक रैली के दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी ही पार्टी पर आरोप लगाया और कहा कि विधानसभा चुनाव में कमलनाथ सरकार ने वादे के अनुसार किसानों की कर्जमाफी नहीं की। बता दें कि वादे के अनुसार, किसानों को दो लाख रुपये की कर्जमाफी करनी थी लेकिन केवल 50 हजार रुपये ही माफ किए गए। कमलनाथ ने मुख्‍यमंत्री बनने के बाद किसान की कर्जमाफी के आदेश पर हस्ताक्षर किए थे। इस तरह का आरोप भाजपा की ओर से भी मध्‍यप्रदेश सरकार पर लगाया जा चुका है। 

मुख्‍यमंत्री बनने के बाद कर्जमाफी के फार्म पर किया था हस्‍ताक्षर 

राज्‍य में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस की ओर से किसानों की कर्जमाफी का वादा किया गया था। इसके अनुसार, दो लाख रुपये माफ किए जाने थे। मुख्‍यमंत्री बनने के बाद कमलनाथ ने किसान कर्जमाफी के आदेश पर हस्ताक्षर भी कर दिए थे। इसके तहत 55 लाख किसानों ने फॉर्म भी भरे थे। 

यह भी पढ़ें: कैसे MP के सीएम कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ा सकता है 1984 सिख दंगा, पढ़िए- यह स्टोरी

यह भी पढ़ें: किसानों की कर्जमाफी को लेकर कांग्रेस में रार, अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कमलनाथ सरकार पर लगाया ये आरोप

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप