Move to Jagran APP

Surgical Strike Row: दिग्विजय सिंह के सर्जिकल स्ट्राइक वाले बयान पर खरगे ने टिप्पणी करने से किया इनकार

जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान 23 जनवरी को एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक करने का दावा करती है। (जागरण-फोटो)

By AgencyEdited By: Ashisha Singh RajputPublished: Tue, 24 Jan 2023 07:53 PM (IST)Updated: Tue, 24 Jan 2023 07:53 PM (IST)
Surgical Strike Row: दिग्विजय सिंह के सर्जिकल स्ट्राइक वाले बयान पर खरगे ने टिप्पणी करने से किया इनकार
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा केंद्र सरकार झूठ के सहारे शासन कर रहा है।

नई दिल्ली, एएनआई। कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह के सर्जिकल स्ट्राइक वाले बयान पर टिप्पणी करने से किनारा कस लिया है। पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने सिंह के बयान पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया। मंगलवार को खरगे ने प्रेस वार्ता में कहा कि हम भारतीय सेना के साथ हैं और सेना का बहुत सम्मान करते हैं। हम हमेशा देश की एकता के लिए काम करते आए हैं और भविष्य में भी करते रहेंगे। कुछ लोग झूठा प्रचार-प्रसार करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन वे इसमें सफल नहीं होंगे।

loksabha election banner

दिग्विजय सिंह ने केंद्र पर साधा निशाना

जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान 23 जनवरी को एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक करने का दावा करती है। उन्होंने स्ट्राइक में कई लोगों को मार गिराया है, लेकिन इन सब का कोई सबूत नहीं है। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा केंद्र सरकार झूठ के सहारे शासन कर रहा है।

उन्होंने कहा, 'मैं आपको बताना चाहता हूं कि यह देश हम सभी का है।' मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने पुलवामा आतंकी हमले को लेकर भी पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि 2019 के आतंकी हमले को टाला जा सकता था, जिसमें सीआरपीएफ के 40 से अधिक जवान मारे गए, अगर सीआरपीएफ पर हमला करने वाले वाहन की ठीक से जांच की गई होती।

पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकियों का हमला

आपको बता दें कि 14 फरवरी, 2019 को कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकवादियों ने हमला किया था, जिसमें 44 भारतीय जवानों की जान चली गई थी। 26 फरवरी 2019 को पुलवामा हमले की प्रतिक्रिया में भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर को निशाना बनाया था।

ये भी पढ़ें- Budget 2023-24: सस्ता बीमा और आयुष्मान भारत की कवरेज बढ़ाने से सबको मिलेगी स्वास्थ्य सुरक्षा

ये भी पढ़ें- Fact Check Story: सलमान और सोनाक्षी सिन्हा की शादी का दावा फेक


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.