नई दिल्ली, एएनआइ। चंद्रयान 2 की लैंडिंग पर पाकिस्तान और इमरान खान के मंत्री लगातार बयानबाजी कर रहे हैं। उनकी इस बयानबाजी का एनडीए के वरिष्ठ मंत्री रामविलास पासवान करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि चांद पर भारत के मिशन ने पाकिस्तान और वहां के नेताओं को हिला कर रख दिया है।

चंद्रयान पर पाकिस्तान द्वारा की जा रही टिप्पणी पर जवाब देते हुए रामविलास पासवान ने कहा कि मोदी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि यह है कि हमारे पड़ोसी, जो हमारे दुश्मन हैं, वो इस मिशन से परेशान हैं। यहां तक ​​कि इमरान खान के मंत्री बौखला गए हैं। ऐसे में उन्हें जो कहना है वो कहते रहें।

उन्होंने कहा चंद्रयान-2 पूरी तरह से सफल मिशन है और हमारे वैज्ञानिक चंद्रमा की सतह के करीब पहुंच गए हैं। पासवान ने कहा कि प्रधानमंत्री एक सच्चे नेता हैं। चाहे जो भी हो वो अपने लोगों के साथ हरदम खड़े रहते हैं। विदेश दौरे से लौटने के तुरंत बाद मोदी जी इसरो पहुंचे और हमारे वैज्ञानिकों का मनोबल बढ़ाया।

दरअसल, रामविलास पासवान का ये बयान पाकिस्तान के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी की टिप्पणी के बाद आया, जिसमें उन्होंने चंद्रयान- 2 का मजाक उड़ाते हुए उसे खिलौना बताया था। इससे पहले एक ट्वीट में चौधरी ने कहा था कि भारत अंतरिक्ष मलबे को बढ़ा रहा है। पहले मिशन शक्ति और अब चंद्रयान विफल रहा।

महज 2.1 किमी की दूरी पर टूटा था संपर्क

बता दें कि 6 से 7 सितंबर की मध्य रात्रि को लैंडर विक्रम चांद की सतह पर उतरने वाला था, लेकिन महज 2.1 किलोमीटर की दूरी पर इसरो का विक्रम से संपर्क टूट गया। वैज्ञानिकों ने इसके बाद लगातार उससे संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन वह कामयाब नहीं हो पाए।

इसरो को  मिली लैंडर विक्रम की लोकेशन 

वहीं अब इसरो को लैंडर विक्रम की लोकेशन के बारे में पता चल गया है। इसकी जानकारी ISRO चीफ के. सिवन ने दी। उन्होंने बताया कि ऑर्बिटर से जो थर्मल तस्वीरें मिली हैं, उनसे चांद की सतह पर विक्रम लैंडर के होने की जनाकारी मिली है।

ये भी पढ़ें : अब जापान के साथ बड़े मून मिशन की तैयारी में ISRO, इन बड़ी स्पेस योजनाओं पर चल रहा है काम

ये भी पढ़ें : Chandrayaan 2: PM मोदी के गले लग छलक पड़े ISRO चीफ के आंसू, Video में कैद हुआ ये भावुक पल

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस