भुवनेश्वर, जागरण आनलाइन डेस्‍क। Odisha Ravan Dahan: कोविड महामारी के दो साल बाद सार्वजनिक दुर्गा पूजा उत्सव पर वर्षा ने खलल डालने का काम किया। हालांकि रुक-रुककर पूरे दिन हो रही वर्षा के बावजूद लोगों के उत्साह में कोई कमी नहीं दिखी और पूजा पंडालों के बाहर लोगों की खासी भीड़ देखने को मिली।

बावजूद इसके वर्षा के कारण पूजा बाजार का माहौल फीका दिखाई दिया, लोग परेशान दिखे। यही कारण है कि वर्षा के कारण ना ही लोग ठीक से दशहरा का आनंद ले पाए और ना ही रावण दहन के दौरान होने वाली आतिशबाजी का आनंद ले पाए।

दुर्गा मूर्ति विसर्जन का माहौल फीका

जानकारी के मुताबिक मौसम विभाग ने पहले से प्रदेश में भारी वर्षा को लेकर चेतावनी जारी की गई थी। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के तहत ही वर्षा का दौर जारी है। ऐसे में पूजा बाजार से लेकर विसर्जन उत्सव तक का माहौल फीका रहा। राजधानी भुवनेश्वर के साथ प्रदेश के विभिन्न जिलों में हुई रुक-रुककर वर्षा ने पूजा का माहौल पूरी तरह से बिगाड़ कर रख दिया।

मेले में लगाए गए झूले से लेकर खाने-पीने की दुकानों तक और मेला घूमने आने वाले लोग हर कोई परेशान दिखा और पूजा का माहौल फीका पड़ गया। केवल पूजा ही नहीं बल्कि विसर्जन उत्सव भी फीका हो गया है क्योंकि गुरुवार सुबह से भी राजधानी भुवनेश्वर के साथ प्रदेश के कई जिलों में रुक-रुककर वर्षा का दौर जारी रहा।

पिछले 24 घंटे में दर्ज की गई इतनी बारिश

पिछले 24 घंटों में कम दबाव के प्रभाव से दो जगहों पर भारी से भारी वर्षा हुई जबकि 34 स्थानों पर भारी वर्षा दर्ज की गई है। भद्रक में अधिकतम 109 मिमी वर्षा दर्ज की गई, जबकि पारलाखेमुंडी में 102.8 मिमी वर्षा हुई।

यह भी पढ़ें-

MP Weather Update: मध्‍य प्रदेश के अधिकांश जिलों में हो रही है बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

MP Accident News: प्रतिमा विसर्जन के लिए जा रही पिकअप वैन नाले में पलटी, 18 लोग घायल

Edited By: Babita Kashyap

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट