Move to Jagran APP

भारत के सरहदी इलाकों को नहीं है खतरा : राजनाथ सिंह

बीएसएफ के अलंकरण समारोह में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय सीमाएं पूरी तरह महफूज हैं। पडो़सी मुल्कों से भारत सद्भाव चाहता है। लेकिन नापाक इरादों का मुंहतोड़ जवाब देंगे।

By Lalit RaiEdited By: Published: Fri, 20 May 2016 11:40 AM (IST)Updated: Fri, 20 May 2016 12:43 PM (IST)

नई दिल्ली( एएनआई)। भारत की सीमा और सरहदी इलाके पूरी तरह सुरक्षित हैं। अगर कोई भारत की तरफ बुरी नजर डालेगा तो उसे भारत सरकार मुंहतोड़ जवाब देगी। बीएसएफ के अलंकरण समारोह में बोलते हुए गृहमंत्री राज नाथ सिंह ने कहा कि भारतीय सुरक्षा एजेंसियां समय-समय पर अपने आपको साबित कर चुकी हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे मौकों पर सुरक्षा बलों से जुड़े हुए लोगों को सम्मानित करने में गर्व होता है।

loksabha election banner

घुसपैठ की संख्या पर सेना और खुफिया एजेंसियों में मतभेद

गृहमंत्री ने कहा कि सुरक्षा एजेंसियों की सतर्कता की वजह से घुसपैठ के मामलों में 50 फीसद की कमी आयी है।भारतीय सुरक्षा एजेंसियां पुरी ताकत से आतंकवाद के मोर्चे पर लडा़ई लड़ रही हैं। उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर कहा कि कुछ पड़ोसी हो सकते हैं जिन्हें भारत की प्रगति रास नहीं आ रही हो। भारत सरकार सभी पड़ोसी मुल्कों के साथ सद्भाव के साथ आगे बढ़ना चाहती है। लेकिन किसी के गलत इरादों का पूरी ताकत से जवाब दिया जाएगा।पठानकोट हमले से जुड़े मामलों की जांच के लिए एनआइए ने पाकिस्तान जाने की इच्छा जताई है। इस मुद्दे पर दोनों देशों के विदेश सचिवों के साथ पहले ही बातचीत हो चुकी है।

किसी भी देश का विकास सुरक्षा की कीमत पर नहीं हो सकता है। विकास के लिए शांति और सुरक्षा अनिवार्य शर्त होती है। भारत सरकार देश में शांति और सुरक्षा के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। भारत आर्थिक मोर्चों पर तरक्की कर रहा है। जिसे दुनिया की सर्वश्रेष्ठ एजेंसियों ने भी मुहर लगाई है।

जेएनयू-कन्हैया विवाद की आड़ में भारत में दंगा कराना चाहता था IS


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.