बांदा, जागरण संवाददाता। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि किसान केंद्र सरकार से कर्ज माफी की उम्मीद न करें, क्योंकि ऐसा संभव नहीं है। उन्होंने दो टूक कहा कि हम किसानों की आंखों में धूल नहीं झोंकना चाहते हैं, इसलिए साफ-साफ कह रहे हैं कि कर्ज माफ नहीं कर पाएंगे। इसकी वजह यह कि आज यदि उत्तर प्रदेश के किसानों का कर्ज माफ करेंगे तो कल बिहार-पंजाब में भी कर्ज माफ करना पड़ेगा, फिर पूरे देश में।

राजनाथ सिंह शुक्रवार को रायफल क्लब मैदान में किसान पंचायत को संबोधित कर रहे थे। कर्ज माफी पर किसानों को निराश करने के साथ ही गृहमंत्री ने उनको हर संभव मदद का भरोसा भी दिया। कहा कि केंद्र सरकार उनके साथ है। केंद्र ने साफ निर्देश दे दिए हैं कि किसानों का गेहूं जैसा भी हो, उसे हर हाल में खरीदा जाए। जो नुकसान होगा केंद्र सरकार भरपाई करेगी। बैंकों को निर्देश दिए गए हैं कि दो साल तक किसानों से कर्ज की वसूली न की जाए। बिना ऋण का कर्ज मुहैया कराया जाए।

केंद्र सरकार ला रही 'कृषि आमदनी' बीमा योजना

गृहमंत्री ने कहा कि पुरानी बीमा योजना की खामियों की वजह से ही किसानों की मौतें हो रही हैं। अगर समय पर बीमा का पूरा लाभ मिलता तो संकट का सामना नहीं करना पड़ता। केंद्र सरकार अब नई बीमा योजना 'कृषि आमदनी' ला रही है। योजना में किसानों को संकट के समय लागत व उत्पादन दोनों के बराबर का पूरा-पूरा क्लेम मिलेगा।

पढ़ेंः विकास के लिए सीमा सुरक्षा अहम

पढ़ेंः गेंहू की खरीद नहीं होने से नाराज किसानों ने किया हाइवे जाम

Edited By: Sudhir Jha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट