Move to Jagran APP

मैं सरकार को दूंगा 100 में 100: राजनाथ सिंह

मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर आज गृहमंत्री ने केंद्र सरकार को सौ में सौ नंबर देते हुए उपलब्‍धियां गिनाई है।

By Monika minalEdited By: Published: Thu, 26 May 2016 01:57 PM (IST)Updated: Thu, 26 May 2016 02:02 PM (IST)

नई दिल्ली (जेएनएन)। आज मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनाई हैं। एक टीवी चैनल को दिए साक्षात्कार में राजनाथ ने कहा की मैं मोदी सरकार को सौ में सौ नंबर दूंगा। मोदी सरकार के कार्यकाल में देश का चौतरफा विकास हुआ है। इन दो सालों में भ्रष्टाचार का एक भी मामला सामने नहीं आया है। लिहाजा पीएम मोदी पार्टी और जनता दोनों की अपेक्षाओं पर खरे उतरे हैं।

loksabha election banner

साथ ही पीएम की तारीफ करते हुए कहा कि मंत्रियों और पीएम में इस समय जबरदस्त तालमेल है। बैठकों में सबको बोलने की इजाजत मिलती है। पीएम मंत्रिमंडल की सलाह पर ही फैसले लेते हैं। किसानों पर कहा कि मैं भी एक किसान हूं। हमारी सरकार किसानों हित चाहती है। हालाकि विकास के लिए जमीन की जरूरत जरूर होती है। लेकिन इससे किसानों को कोई नुकसान नहीं होगा। हमारे लिए देश का किसान सबसे उपर है।

सरकार के दो साल पर 'मेरा देश बदल रहा है' का वीडियो लॉन्च

केजरीवाल के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि केजरीवाल एक ऐसा उदाहरण बता दें जिसमें उन्हें केंद्र की ओर से परेशान किया गया हो। लेकिन ये बात याद रखें कि दिल्ली एक केंद्र शासित प्रदेश, राज्य नहीं। सभी को कानून के लिहाज से ही चलना होगा।

उत्तराखंड पर कहा कि वहां जो भी हुआ, उसके पीछे कांग्रेस की गलती है। कांग्रेस को पहले अपने घरेलू झगड़े हल करने चाहिए। आगे कहा कि बटला हाउस पर राजनीति बंद होनी चाहिए। जो पाटिल ने कहा वो एकदम सही है।

साथ ही पाकिस्तान पर दाऊद को पनाह देने का आरोप लगाते हुए राजनाथ ने कहा कि दाऊद एक अंतरराष्ट्ररीय अपराधी है और केंद्र सरकार उसे वापस लाने के लिए पूरे प्रयास कर रही है। अर्थव्यवस्था् को लेकर सरकार की तारीख करते हुए कहा कि इन दो सालो में भारत की अर्थव्यवस्था में जबरदस्तर सुधार आया है। इसलिए भारत इस समय दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बन गया है।

अधिकांश जनता मोदी सरकार के कामकाज से संतुष्ट पर अपेक्षाएं भारी

वहीं भारतीय मुसलमानों पर विश्वास जताते हुए कहा कि भारत में आईएसआईएस कोई बड़ी चुनौती नहीं है और न ही आईएस यहां अपना प्रभाव बढ़ा सकता है क्योंकि देश के मुसलमान इसे बढ़ने ही नहीं देंगे। सरकार देश की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं करेगी। पठानकोट जैसी घटना हम दोबारा नहीं होने देंगे। साथ ही कहा कि ‘मैं चाहता हूं कि हमारी एनआईए पाक जाए और मामले की जांच करे’।

मोदी सरकार के पूरे हुए दो साल, जानें- किन-किन योजनाओं ने किया कमाल

कश्मीरी पंडितों को जमीन व कॉलोनियां मुहैया कराने के विवाद पर कहा कि मुफ्ती मोहम्म द सईद ने कश्मीरी पंडितों को जमीन देने के लिए सहमति जताई थी। इसलिए महबूबा को कुछ और वक्त देना चाहिए।

उधर देशविरोधी नारों पर कहा कि ‘नेताओं को बयानबाजी से बचना चाहिए। जेएनयू केस में दिल्ली पुलिस कार्रवाई कर रही है। भारत माता टुकड़े टुकड़े जैसे नारों से बचना चाहिए।‘


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.