मेरठ शहर रेटिंग

3.2/5
☆☆☆☆☆★★★★★
मेरठ

मेरठ का जिक्र आते ही 1857 की क्रांति की याद ताजा हो जाती है। जब मेरठ की छावनी में भारतीय सिपाहियों ने अंग्रेजों के खिलाफ क्रांति का बिगुल बजाया था और उसके बाद इस जगह को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली थी। यह रामायाण के साथ ही महाभारत काल में भी इस शहर का जिक्र है। रावण की पत्‍नी मंदोदरी का यह मायका था। राजा परीक्षित यहीं के थे। हस्तिनापुर मेरठ का ही हिस्‍सा है। इस जगह पर नौचंदी का मेला लगता है जो कि हिंदू-मुस्लिम एकता का प्रतीक है। कल का ऐतिहासिक-पौराणिक महत्‍ता का शहर आज स्पोर्ट्स कैपिटल बन गया है। खेल उत्‍पाद हों या खिलाड़ी, मेरठ का परचम दुनिया में फैला रहे हैं।

  • जनसंख्या34,44,000
  • क्षेत्रफल2590 वर्ग किलोमीटर
  • पुलिस स्टेशन32
  • साक्षरता67.7% (2011 जनगणना के अनुसार)
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK