Move to Jagran APP

Share Market Close Today: वर्ष 2024 के पहला कारोबारी हफ्ते के आखिरी दिन हरे निशान पर बंद हुआ बाजार, इन सेक्टर में शेयरों में आई तेजी

Share Market Today वर्ष 2024 के पहले कारोबारी हफ्ते में बाजार में उतार-चढ़ाव देखने को मिला था। इस हफ्ते बाजार गिरावट के साथ खुला था पर बीच हफ्ते में बाजार में तेजी देखने को मिली थी। आज सुबह बाजार तेजी के साथ खुला पर बाद में बाजार में उतार-चढ़ाव देखने को मिला था। इसके बाद बाजार हरे निशान पर बंद हुआ।

By Priyanka KumariEdited By: Priyanka KumariFri, 05 Jan 2024 03:33 PM (IST)
इन सेक्टर में शेयरों में आई तेजी

बिजनेस डेस्क, नई दिल्ली। वर्ष 2024 की पहला कारोबारी हफ्ता उतार-चढ़ाव वाला रहा है। इस हफ्ते की शुरुआत में बाजार गिरावट के साथ खुला था पर बीच हफ्ते में बाजार में तेजी देखने को मिली। आज सुबह बाजार बढ़त के साथ खुला था पर बाद में शेयर बाजार सीमित दायरे में कारोबार करने लगा, इसके बाद बाजार ने बढ़त हासिल कर ली।

आईटी और कैपिटल गुड्स इंडेक्स में 1 फीसदी की तेजी हुई, जबकि फार्मा, और पीएसयू बैंक इंडेक्स 0.3-0.5 फीसदी गिर गए। दूसरी तरफ, बीएसई मिडकैप इंडेक्स सपाट, जबकि स्मॉलकैप इंडेक्स 0.6 फीसदी बढ़ा।

दोपहर में थोड़ी देर गिरावट के बाद, बीएसई सेंसेक्स ने तेजी से सुधार किया। सेंसेक्स 178.58 अंक या 0.25 फीसदी उछलकर 72,026.15 पर बंद हुआ। यह दिन के दौरान यह 308.91 अंक या 0.42 प्रतिशत बढ़कर 72,156.48 पर पहुंच गया। निफ्टी 52.20 अंक या 0.24 फीसदी चढ़कर 21,710.80 पर पहुंच गया।

टॉप गेनर और लूजर स्टॉक

सेंसेक्स की कंपनियों में लार्सन एंड टुब्रो, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, इंफोसिस, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और विप्रो के शेयर हरे निशान पर बंद हुए। वहीं, नेस्ले इंडिया, एशियन पेंट्स, जेएसडब्ल्यू स्टील, कोटक महिंद्रा बैंक और एचडीएफसी बैंक के स्टॉक टॉप लूजर रहे।

निफ्टी पर टॉप गेनर रहने वालों में अदाणी पोर्ट्स, एलएंडटी, टीसीएस, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस और एलटीआईमाइंडट्री के स्टॉक शामिल हैं। वहीं, नेस्ले इंडिया, ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज, यूपीएल, जेएसडब्ल्यू स्टील और कोटक महिंद्रा बैंक के शेयर गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं।

ग्लोबल मार्केट का हाल

एशियाई बाजारों में, टोक्यो सकारात्मक क्षेत्र में बंद हुआ जबकि सियोल, शंघाई और हांगकांग निचले स्तर पर बंद हुए। यूरोपीय बाज़ार घाटे में कारोबार कर रहे थे. गुरुवार को अमेरिकी बाजार ज्यादातर गिरावट के साथ बंद हुए।

इस बीच, वैश्विक तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.94 प्रतिशत चढ़कर 78.32 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। एक्सचेंज डेटा के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने गुरुवार को 1,513.41 करोड़ रुपये की इक्विटी खरीदी।

रुपये में तेजी

शेयर बाजार में आई तेजी ने भारतीय करेंसी को बढ़त हासिल करने में मदद की है। आज डॉलर के मुकाबले रुपया 8 पैसे की बढ़त के साथ बंद हुआ है। इंटरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में, स्थानीय इकाई ग्रीनबैक के मुकाबले 83.23 पर खुली। फिर ग्रीनबैक के मुकाबले रुपया इंट्रा-डे में 83.24 के निचले स्तर और 83.12 के उच्चतम स्तर के बीच झूलता रहा और अंत में 83.16 पर बंद हुआ, जो कि 83.24 के पिछले बंद स्तर से 8 पैसे अधिक है।