Move to Jagran APP

अजित पवार की NCP को मोदी कैबिनेट में जगह नहीं मिलने पर सुप्रिया सुले ने कसा तंज, बोलीं -हम किसी फॉर्मूले पर नहीं टिके

नरेंद्र मोदी ने कल प्रधानमंत्री पद की शपथ ली साथ ही उनके साथ कई मंत्रियों को कैबिनेट में शामिल किया गया। वहीं कई मंत्री ऐसे हैं जिन्हें कैबिनेट से बाहर कर दिया गया है। कैबिनेट में अजित पवार के नेतृत्व वाली एनसीपी के किसी भी नेता को कोई जगह नहीं मिली है।सांसद सुप्रिया सुले ने इसको लेकर तंज कसा है।

By Agency Edited By: Shubhrangi Goyal Published: Mon, 10 Jun 2024 02:41 PM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 02:41 PM (IST)
NCP को मोदी कैबिनेट में जगह नहीं मिलने पर सुप्रिया सुले ने कसा तंज (FILE PHOTO)

पीटीआई, पुणे। नरेंद्र मोदी ने कल प्रधानमंत्री पद की शपथ ली, साथ ही उनके साथ कई मंत्रियों को कैबिनेट में शामिल किया गया। कई मंत्री ऐसे हैं जिन्हें कैबिनेट से बाहर कर दिया गया है। कैबिनेट में अजित पवार के नेतृत्व वाली एनसीपी के किसी भी नेता को कोई जगह नहीं मिली है।

सांसद सुप्रिया सुले ने इसको लेकर तंज कसा है। उन्होंने कहा, उन्हें इस बात पर कोई आश्चर्य नहीं है कि अजित पवार के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नई कैबिनेट में कोई जगह नहीं मिली।

'किसानों का पूरा कर्ज माफ करें बीजेपी'

एनसीपी के 25वें स्थापना दिवस पर बात करते हुए शरद पवार की बेटी और बारामती की सांसद ने कहा कि एनडीए मंत्रिमंडल की पहली बैठक हो रही है। इस दौरान उन्हें किसानों का पूरा कर्ज माफ करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा, 'यूपीए के दौरान एनसीपी ने मनमोहन सिंह सरकार में सहयोगी के तौर पर काम किया था। मनमोहन जी ने पवार साहब के प्रति प्रेम और भरोसा दिखाया और उन्हे कैबिनेट मंत्री पद मिला जबकि पार्टी के पास उस समय केवल आठ या नौ सांसद थे।'

सुप्रिया सुले ने आगे कहा, 'कांग्रेस ने संख्या के बारे में नहीं सोचा और अपने सहयोगी के रूप में पार्टी का सम्मान किया। महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार में भी सभी एक-दूसरे के साथ सम्मान से पेश आते थे। हम किसी फॉर्मूले पर नहीं टिके। हमारा रिश्ता आपसी सम्मान और योग्यता पर आधारित था।'

कैबिनेट में जगह चाहती है NCP-अजित पवार

बता दें कि महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने हाल ही में कहा था कि NCP मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री बनना चाहती थी और उन्होंने भाजपा के स्वतंत्र प्रभार वाले राज्य मंत्री के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया था। इसके बाद अजित पवार ने इस बात पर जोर दिया है कि NCP इंतजार करने के लिए तैयार थी,लेकिन वह कैबिनेट में जगह चाहती थी।

बता दें कि भाजपा और शिवसेना के साथ महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ गठबंधन में रही NCP ने लोकसभा चुनावों में खराब प्रदर्शन किया और जिन चार सीटों पर चुनाव लड़ा उनमें से केवल एक सीट (रायगढ़) जीती।

यह भी पढ़ें: PM Modi to Justin Trudeau: नम्र लहजे में कड़ा संदेश, पीएम मोदी ने जस्टिन ट्रूडो के 'बधाई' पोस्ट पर कुछ इस तरह दी प्रतिक्रिया

यह भी पढ़ें: Murder In Basti: हत्यारों ने क्रूरता से किया युवक का कत्ल, आंख निकाली-सिर कुचला, लाश देखकर कांप गए लोग


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.