पुणे, एजेंसी। पुलिस ने महाराष्ट्र के पुणे जिले में एक नदी में एक परिवार के सात सदस्यों के शव मिलने के मामले में पांच लोगों को हिरासत में लिया है और हत्या का मामला दर्ज किया है। एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी।

पुलिस ने कहा कि मृतकों में 40 वर्षीय एक दंपति, उनकी बेटी और दामाद और तीन पोते-पोतियां शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि चार शव 18 जनवरी से 22 जनवरी के बीच मिले थे, जबकि तीन शव मंगलवार को पुणे शहर से करीब 45 किलोमीटर दूर दौंड तहसील के यवत गांव के बाहरी इलाके में भीमा नदी पर परगोन पुल के पास मिले थे।

भारतीय दंड संहिता की धारा 302 के तहत मामला दर्ज

पुणे ग्रामीण पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, 'हमने सात लोगों की मौत के सिलसिले में पांच लोगों को हिरासत में लिया है और भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) के तहत मामला दर्ज किया गया है।'

मृतकों की पहचान मोहन पवार (45), उनकी पत्नी संगीता मोहन (40), उनकी बेटी रानी फुलवारे (24), दामाद श्याम फुलवारे (28) और तीन से सात साल के तीन बच्चों के रूप में हुई है।

7 सदस्यों के शव नदी में मिलने के बाद मचा हड़कंप

बता दें कि महाराष्ट्र के पुणे जिले में एक ही परिवार के 7 सदस्यों के शव नदी में मिलने के बाद हड़कंप मच गया। पुणे के दौंड में भीमा नदी से एक परिवार के 4 शव 18 से 21 जनवरी के बीच और 3 अन्य आज निकाले गए। प्रथम दृष्टया यह आत्महत्या का लग रहा है, हालांकि पुलिस हर एंगल से जांच कर रही है। दुर्घटनावश मौत की रिपोर्ट दर्ज की गई है। यह जानकारी महाराष्ट्र के पुणे ग्रामीण पुलिस ने किया।

यह भी पढ़ें- Banjara Mahakumbh: महाराष्ट्र में शुरू हुआ 'बंजारा महाकुंभ', धर्मांतरण है खिलाफ जागरूकता अभियान है अहम मुद्दा

यह भी पढ़ें- Fire in Multi Storey Building: मुंबई की बहुमंज़िला इमारत में लगी आग, दम घुटने से हुई 4 लोगों की मौत

Edited By: Babli Kumari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट