नई दिल्ली, एजेंसी। Maharashtra Banjara Mahakumbh: देश में आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) की तरफ से महाराष्ट्र (Maharashtra) के जलगांव जिले में छह दिवसीय 'बंजारा महाकुंभ' का आयोजन किया गया है। इस महाकुंभ को खासकर बंजार जातियों के लिए कराया जा रहा है। आरएसएस के वरिष्ठ सदस्य सुरेश भैयाजी जोशी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

'गुमराह करके होता है धर्मांतरण'

बंजारा महाकुंभ को लेकर संघ के वरिष्ठ सदस्यों ने बताया कि पिछले कई सालों से ईसाई मिशनरी बंजारा समुदाय के सदस्यों को गुमराह करके उनका धर्मांतरण कर रही हैं। ऐसे मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है। ये महाकुंभ उसके खिलाफ जागरूकता बढ़ाने का काम करेगा। संघ के कार्यकर्ताओं ने ये भी बताया कि कर्नाटक, मध्य प्रदेश, तेलंगाना में आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर भी ये कार्यक्रम महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि इस भव्य समारोह में चुनावी राज्यों से खानाबदोश जातियों गोर बंजारा, लबाना और नाइकदा के 10 लाख से अधिक लोगों के भाग लेने का अनुमान है। इसके अलावा, इस कार्यक्रम में महाराष्ट्र और गोवा से भी इन जातियों के लोग शामिल होंगे।

लोगों को आमंत्रित करने के लिए संत कर रहे हैं दौरा

इस कार्यक्रम में लोगों को आमंत्रित करने के लिए खानाबदोश जातियों के संत सहित अन्य सामाजिक लोग विभिन्न जगहों का दौरा कर रहे हैं। इस महाकुंभ में सभी लोगों के ठहरने का भी इंतजाम किया गया है। आरएसएस की विचारधारा वाली पार्टी बीजेपी, इस वक्त कर्नाटक और मध्य प्रदेश में सत्ता में है। बीजेपी तेलंगाना में जीत हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है। ये तीन राज्य 2024 के लोकसभा चुनाव के दृष्टिकोण से भी पार्टी के लिए महत्वपूर्ण हैं।

हिंदू समाज का अभिन्न हिस्सा हैं बंजारा जातियां

संघ के एक बड़े कार्यकर्ता ने ये भी कहा कि असामाजिक ताकतें भी लगातार खानाबदोश जातियों के इतिहास, संस्कृति, धर्म व परंपराओं के बारे में झूठ फैलाने की कोशिश कर रही हैं। उन्होंने कहा कि ये कवायद उन्हें रोकने और यह सुनिश्चित करने के लिए है कि वो हिंदू समाज का अभिन्न अंग हैं। इस महाकुंभ को आयोजित करने के लिए बंजारा समुदाय के युवा और 3,000 आरएसएस कार्यकर्ता दो महीने से प्रयास कर रहे हैं। ये जलगांव जिले के गोदरी गांव में 500 एकड़ भूमि पर आयोजित किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें:

"मुझे रात से धमकियां मिल रही हैं" BBC डॉक्युमेंट्री विवाद पर कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद बोले अनिल एंटनी

Lucknow Building Collapse: लखनऊ अलाया अपार्टमेंट हादसे में पहली मौत, सिविल अस्पताल के निदेशक ने की पुष्‍ट‍ि

Edited By: Devshanker Chovdhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट