Move to Jagran APP

BMW Hit and Run Case: मिहिर शाह ने जिस पब में पी थी शराब, वहां चला BMC का बुलडोजर

जुहू के जिस बार में मिहिर शाह को शराब परोसी गई थी वहां अब मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) का बुलडोजर चलाया गया। दरअसल BMC ने बुधवार को बार के अवैध हिस्से को जेसीबी की मदद से तोड़ दिया है। हिट-एंड-रन मामले के मुख्य आरोपी मिहिर शाह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि वह तीन दिनों से लापता था।

By Agency Edited By: Nidhi Avinash Wed, 10 Jul 2024 01:05 PM (IST)
जुहू के बार में चला BMC का बुलडोजर (Image: Jagran)

एएनआई, मुंबई। BMW Hit and Run Case: मुंबई में वर्ली हिट-एंड-रन मामले में मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बड़ा फैसला लिया है। घटना से पहले मिहिर शाह जुहू के जिस बार में गया था वहां बुधवार को बुलडोजर चलाया गया। BMC ने बार के अवैध हिस्से को पूरी तरह से तोड़ दिया है। यह फैसला घटना के बाद बार में हुई छापेमारी के बाद लिया गया है। 

बता दें कि मिहिर शाह, शिवसेना नेता राजेश शाह का बेटा है। 24 साल के मिहिर को कल शाम (मंगलवार) को गिरफ्तार किया गया। दरअसल, वह तीन दिनों से लापता था। दरअसल, पुलिस ने मिहिर का पता लगाने के लिए उसके दोस्त के फोन को ट्रैक किया था, जिसने कुछ देर के लिए अपना फोन चालू कर दिया था। 

— ANI (@ANI) July 10, 2024

तेज रफ्तार ने ली थी महिला की जान

जानकारी के मुताबिक, सोमवार (8 जुलाई) को तेज रफ्तार बीएमडब्ल्यू कार ने एक स्कूटर को टक्कर मारी थी, जिससे एक महिला की मौत हो गई। यहीं नहीं कार महिला को लगभग 2 किलोमीटर तक घसीटती रही। महिला के पति को मामूली चोटें आई। पुलिस ने मिहिर को पकड़ने के लिए 11 टीम तैयार की थी। इसमें क्राइम ब्रांच को भी शामिल किया गया था।

मिहिर को जारी हुआ लुकआउट नोटिस

मिहिर के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर (एलओसी) भी जारी किया गया था। पुलिस सूत्रों के अनुसार, दुर्घटना के बाद रविवार सुबह, मिहिर ने अपनी बीएमडब्ल्यू कार बांद्रा के कलानगर में ले जाकर खड़ी कर दी थी। वहीं से उसने अपने पिता राजेश शाह को फोन पर इस दुर्घटना की जानकारी दी थी। उसके बाद उसने अपना फोन बंद कर दिया था।

यह भी पढ़ें: Mumbai BMW hit-and-run: फोन ऑन करते ही पकड़ा गया मिहिर शाह, पढ़ें तीन दिन से फरार कैसे आया पुलिस की गिरफ्त में

यह भी पढ़ें: मुंबई हिट-एंड-रन पीड़िता के पति ने मिहिर शाह की गिरफ्तारी पर उठाए सवाल, कहा- नेता हमें कूड़े की तरह समझते हैं