Move to Jagran APP

Madhya Pradesh: ओले व बारिश से भारी तबाही, किसानों से मिले CM शिवराज; कर्ज वसूली पर किया ऐलान

मध्य प्रदेश में पिछले चार दिनों से मूसलाधार बारिश और ओलावृष्टि हुई है जिससे सारी फसलें चौपट हो गई हैं। कर्ज में डूबे किसान बर्बादी की कगार पर खड़े है।ऐसे में किसानों को मुआवजा और मदद का भरोसा दिलाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को विदिशा जिले पहुंचे।

By Jagran NewsEdited By: Nidhi AvinashPublished: Tue, 21 Mar 2023 02:34 PM (IST)Updated: Tue, 21 Mar 2023 03:47 PM (IST)
Madhya Pradesh: ओलों व बारिश से भारी तबाही, किसानों से मिले CM शिवराज; कर्ज वसूली पर किया ऐलान

विदिशा, जागरण डेस्क। मध्य प्रदेश में पिछले चार दिनों से मूसलाधार बारिश और ओलावृष्टि हुई है, जिससे सारी फसलें चौपट हो गई हैं। कर्ज में डूबे किसान बर्बादी की कगार पर खड़े है। ऐसे में किसानों को मुआवजा और मदद का भरोसा दिलाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को विदिशा जिले पहुंचे।

गुलाबगंज तहसील के पटवारी खेड़ी, घुरदा और मढ़ी गांव में हुए ओलावृष्टि से फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। मुख्यमंत्री शिवराज यहां फसलों को हुए नुकसान का जायजा लेने पहुंचे।

किसानों को सीएम ने बंधाया ढांढस

मुख्यमंत्री ने यहां कर्ज में डूबे किसानों का ढांढस बांधा और कहा कि किसान को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। प्रत्येक प्रभावित खेत का सर्वे मानवीय दृष्टिकोण और उदारता से किया जाएगा। सभी किसानों को राहत दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में प्रभावित जिलों में सर्वे का कार्य जारी है। अधिकारियों को निर्देश देते हुए शिवराज सिंह ने कहा कि कोई भी हीला हवाली नही करे और पारदर्शी तरीके से नुकसान का सर्वे करे। सभी सर्वे सूची पंचायत भवन पर प्रदर्शित की जाएगी और आपत्ति होने पर उसका भी निराकरण किया जाएगा।

कर्ज वसूली और बिजली बकाया की वसूली स्थगित

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कर्ज में डूबे किसानों को राहत देते हुए कर्ज वसूली और बिजली बकाया की वसूली को स्थगित करने का एलान किया है। उन्होंने कहा कि किसानों के कर्ज का ब्याज सरकार देगी। 50 प्रतिशत से अधिक के नुकसान पर किसानों को प्रति हेक्टेयर अब 32 हजार रुपए की राहत राशि दी जाएगी। इसके अलावा फसल बीमा की राशि भी अलग से दी जाएगी। चौहान ने कहा, 'किसान चिंता नही करे, परेशान न हों, चिंता के लिए मैं मुख्यमंत्री हूं और किसान बहन और भाइयो को सभी तरह के संकट से बाहर निकाल कर ले जाऊंगा।'

50 प्रतिशत से अधिक नुकसान पर मिलेगा 32 हजार

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक हेक्टेयर फसल में 50 प्रतिशत से अधिक नुकसान पर किसानों को 32 हजार की राशि दी जाएगी। वहीं, पशु और जानवरों की हानि पर भी राहत राशि प्रदान की जाएगी। मकानों को क्षति पर भी सहायता दी जाएगी। इसके अलावा, ओला प्रभावित किसानों के परिवारों की बेटी की शादी भी मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में 56 हजार की राशि देकर करवाई जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की हालत से वह अवगत है और इस बारिश से उनकी मेहनत के साथ-साथ खाद, बीज, उर्वरक, दवाई नष्ट हो गया है। बता दें कि कलेक्टर कमिश्नर को समय पर कार्रवाई पूर्ण करने और किसानों को राहत राशि देने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.