Move to Jagran APP

हिंदुओं से बात की तो... शरिया कानून के नाम पर जुल्‍म ढा रही आदम सेना, घर में घुसकर मुस्लिम युवतियों संग कर रहे छेड़खानी

रामगढ़ जिले के विभिन्न गावों में मुस्लिम समुदाय से जुड़े कुछ युवकों ने आदम सेना के नाम से संगठन बनाया है। इसके सहारे वे इलाके के लोगों संग मनमाना बर्ताव कर रहे हैं। इन्‍हें दूसरे कौम के लोगों से बात करने के लिए मना किया गया महिलाओं को पर्दा करने के लिए कहा गया है नहीं मानने पर सख्‍त कार्रवाई की जा रही है।

By Tarun K Bagi Edited By: Arijita Sen Published: Tue, 05 Mar 2024 12:08 PM (IST)Updated: Tue, 05 Mar 2024 12:08 PM (IST)
गांव की युवती निकहत नजमा बयां करती अपना दर्द।

तरुण बागी, रामगढ़। रामगढ़ जिले के विभिन्न गावों में मुस्लिम समुदाय से जुड़े कुछ युवकों ने आदम सेना के नाम से संगठन बनाया है। आदम सेना में शामिल युवक मुस्लिम युवतियों पर जबरन शरिया कानून थोप रहे। आदम सेना का उद्देश्य शरिया कानून का प्रचार करना व इसे लागू है। संगठन महिलाओं-युवतियों को हिंदुओं से बात करने या बुर्का नहीं पहनने पर फौरी कार्रवाई कर रही है।

शरिया कानून के नाम पर मुस्लिम युवतियों पर जुल्‍म

कार्रवाई के नाम पर आदिम सेना से जुड़े युवक उनके घरों में ताला जड़ दे रहे हैं। शरिया कानून का पालन नहीं करने पर युवतियों को गांव से बाहर करने की भी धमकी दे रहे हैं। शरिया कानून के नाम पर मुस्लिम युवतियों को प्रताड़ित करने का एक मामला सामने आया है।

मामला जिले के रजरप्पा थाना क्षेत्र के दुलमी प्रखंड अंतर्गत सिकनी गांव का है। सिकनी मुस्लिम बहुल गांव है। यहां की एक युवती निकहत नजमा ने कथित रूप से आदम सेना से जुड़े मुस्लिम युवकों पर शरिया कानून थोपने की शिकायत रामगढ़ डीसी व एसपी से की है।

गांव की युवती ने साझा किया दर्द

निकहत ने बताया कि वे लोग तीन बहन हैं। एक भाई माता-पिता के साथ सिंगरौली (मध्य प्रदेश) में रह रहे थे। पिता एनसीएल में नौकरी करते थे। पिता की मौत के बाद सपरिवार अपने पैतृक गांव सिकनी आ गए। यहां पुश्तैनी जमीन आदि को लेकर परिवार में विवाद होने लगा।

मामले में दोनों ओर से रजरप्पा थाने में प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई। इसके बाद समझौता कराने के नाम पर अपने आपको आदिम सेना का सदर बताकर गांव के युवक पूरे परिवार को प्रताड़ित कर रहे हैं। कौम में शरिया कानून का हवाला देकर पर्दा में रहने व दूसरे कौम के लोगों से बातचीत नहीं करने बात कही।

युवती ने दी आत्‍महत्‍या की धमकी

स्वयं को आदिम सेना का सदर व सदस्य बताने वाले सलमान व अहमद ने घर में घुसकर मुझसे व मेरी बहन के साथ छेड़खानी की। संगठन के युवकों ने यह भी कहा कि हमलोगों में शरिया कानून चलता है। हमलोग प्रशासनिक कार्रवाई को नहीं मानते हैं। कहीं भी शिकायत करो, कोई कुछ नहीं कर सकता है।

निकहत ने कहा कि शरिया कानून बताकर मेरे परिवार को परेशान व प्रताड़ित किया जा रहा है। पुलिस-प्रशासन से न्याय नहीं मिल रहा है। प्रशासन की ओर से संगठन पर कार्रवाई नहीं की गई तो वह एसपी कोठी के समक्ष वह आत्महत्या कर लेंगी।

यह भी पढ़ें: भारत आना... दुष्‍कर्म पीड़िता स्‍पेनिश महिला का छलका दर्द, कहा- पाकिस्‍तान जैसे खतरनाक देश में की कैंपिंग लेकिन...

यह भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2024: झारखंड की इन सीटों पर किसे मिलेगा टिकट? जल्द होगा सस्पेंस खत्म, भाजपा नेता ने कर दिया स्टैंड क्लियर


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.