जम्मू, जागरण संवाददाता । श्रीनगर (Srinagar) शहर के परिमपोरा इलाके में लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar e Taiba) के दो कमांडरों को उनके अंजाम तक पहुंचाने के दौरान बहादुरी का परिचय देने वाले जम्मू कश्मीर पुलिस (Jammu Kashmir Police) के सुपरिंटेंडेंट आफ पुलिस शहजाद अहमद सलारिया (Shahad Ahmad Salaria) को गणतंत्र दिवस के अवसर पर गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने बहादुरी के लिए पुलिस मेडल देने की घोषणा की है।

शेर-ए-कश्मीर वीरता मेडल से भी किया जा चुका सम्मानित

शहजाद सलारिया इन दिनों जम्मू में आमर्ड विंग के पुलिस कंट्रोल रूम में एसपी के पद पर तैनात है। जम्मू कश्मीर पुलिस में अपने करीब 18 वर्ष के कार्यकाल में शहजाद सलारिया को बहादुरी के लिए यह तीसरी बार गृह मंत्रालय ने पुलिस मेडल देने की घोषणा की है। इससे पूर्व दो बार उन्हें वीरता के लिए यह मेडल मिल चुका है। इसके अलावा शहजाद सलारिया को बहादुरी के लिए जम्मू कश्मीर पुलिस द्वारा दिए जाने वाले शेर ए कश्मीर वीरता मेडल से भी सम्मानित किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें - Jammu-Srinagar NH पर यातायात निलंबित, पत्थर लुढ़कने से ट्रक और तेल टैंकर में टक्कर, एक की मौत

जम्मू संभाग के कई जिलों में किया काम 

एसपी सिटी वेस्ट श्रीनगर में अपनी तैनाती के दौरान शहजाद सलारिया ने कई आतंकी हमलों में भाग लिया और वहां लोगों की जान व माल को बचाने के अलावा आतंकियों को मार गिराने में भी सहायक भूमिका निभाई है। शहजाद सलारिया वर्ष 2004 बेच के जम्मू कश्मीर पुलिस सेवा के अधिकारी है। वह अपने कार्यालय में कई अहम पदों पर तैनात रह चुके है। कश्मीर के अलावा उन्होंने जम्मू संभाग के कई जिलों में काम किया है।

यह भी पढ़ें - Bharat Jodo Yatra: बारिश और भूस्खलन के कारण राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा रुकी

यह भी पढ़ें - आतंकी बनने निकले 5 किशोर सुरक्षाबलों ने स्वजन को सौंपे, सीमा पार बैठे आतंकी हैंडलरों के संपर्क में थे पांचों

Edited By: Nidhi Vinodiya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट