जींद, जेएनएन। Covid_19 Vaccine Theft: कोरोना के कहर के बीच हरियाणा में कोरोना वैक्‍सीन चोरी होने का पहला मामला सामने आया था। हालांकि देर शाम को चोर ने वैक्‍सीन को लौटा दिया। चोर बैग को थाने के बाहर एक बुजुर्ग को देकर चला गया। उसने कहा कि इसे थाने में दे दे। बता दें कि हरियाणा के जींद के सरकारी अस्‍पताल के पास बने पीपी सेंटर से कोरोना वैक्‍सीन चोरी हो गई थी। चोर कोरोना वैक्‍सीन की 1710 डोज चोरी कर ले गया था।

जींद के सरकारी अस्‍पताल में कोरोना वैक्‍सीन रखने का मुख्‍य सेंटर है। वहीं, परिसर में पीपी सेंटर भी है। इसमें भी कोरोना की वैक्‍सीन रखी गई थीं। यहां पर कोविशील्ड और कोवैक्सीन की डोज रखी हुई थी। जींद के स्‍वास्‍थ्‍य निरीक्षक राममेहर वर्मा ने बताया कि रात के समय किसी ने पीपी सेंटर का ताला तोड़कर वैक्‍सीन चोरी कर ली। 

vaccine

स्‍वास्‍थ्‍य निरीक्षक ने बताया कि सुबह जब सेंटर पर पहुंचे तो ताला टूटा हुआ था। देखा तो वैक्‍सीन नहीं थी। चोर 1270 कोविशील्ड और 440 कोवैक्सीन की डोज ले गया था। इसके अलावा वहां पर रखीं कुछ फाइलें भी चोरी कर ले गया। हालांकि चोर उन्‍हीं फाइलों के पास रखे 50 हजार रुपये नहीं चोरी किया। 

वैक्‍सीन चोरी होने का मामला उच्‍च अधिकारियों के संज्ञान में लाया गया है। वहीं आशंका जताई जा रही है कि कोरोना के बढ़ते कहर की वजह से कालाबाजारी के लिए वैक्‍सीन को चोरी किया गया है।  

बता दें कि बुधवार को रेमडेसिविर (Remdesivir) के 24 पैकेट सहित 4 लोगों को अंबाला में गिरफ्तार किया गया था। इसे भी पुलिस कालाबाजारी से जोड़कर देख रही है। इनके लोगों के पास न बिल थे और न कोई रिपोर्ट। वहीं, प्रशासन ने ऑक्‍सीजन सिलेंडरों की भी सुरक्षा बढ़ा दी है। 

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें: बेटी पूरे कर रहे टैक्सी चालक पिता के ख्‍वाब, भाई ने दिया साथ तो कामयाबी को बढ़े हाथ

यह भी पढ़ें: पानीपत में बढ़ रहा कोरोना, बच्‍चों को इस तरह बचाएं, जानिये क्‍या है शिशु रोग विशेषज्ञ की सलाह

यह भी पढ़ें: चोट से बदली पानीपत के पहलवान की जिंदगी, खेलने का तरीका बदल बना नेशनल चैंपियन