Move to Jagran APP

Haryana News: 'गोली किसी के भी आदेश से चली, मैं गृह मंत्री था जिम्मेवारी लेता हूं; किसानों से बोले अनिल विज

अंबाला (Ambala News) में आज प्रदेश के पूर्व गृह अनिल विज एक चुनावी कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे। यहां पर गांव के कुछ लोगों ने उनका विरोध किया। जिसके बाद उन्होंने अपनी गाड़ी रुकवाई। गृहमंत्री किसानों के जब करीब पहुंचे तो सभी ने मांग करते हुए विज से कहा कि गोली चलाने वालों पर कार्रवाई हो। पूर्व मंत्री ने कहा कि मैं गृह मंत्री था जिम्मेवारी लेता हूं।

By Deepak Behal Edited By: Monu Kumar Jha Published: Tue, 21 May 2024 11:45 PM (IST)Updated: Tue, 21 May 2024 11:45 PM (IST)
Haryana News: 'गोली किसी के भी आदेश से चली, मैं गृह मंत्री था जिम्मेवारी लेता हूं-विज।फाइल फोटो

जागरण संवाददाता, अंबाला। (Haryana Hindi News) गांव पंजोखरा साहिब में मंगलवार को प्रदेश के पूर्व गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज (Anil Vij) चुनावी कार्यक्रम में पहुंचे तो गांव में विरोध जता रहे कुछ किसानों को देख उन्होंने गाड़ी रुकवा ली। किसानों के बीच पहुंच गए। हाथ जोड़ते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि उन्होंने पंजोखरा साहिब में सबसे ज्यादा कार्य किए हैं।

किसानों ने गोली चलाने वालों पर कार्रवाई की मांग की। विज ने कहा कि अब वह सरकार में मंत्री नहीं हैं। आपके ही भाई हैं। विज ने किसानों से कहा कि किसानों पर गोली किसी के भी आदेश से चली, मैं उस समय गृह मंत्री था और मैं उसकी जिम्मेवारी लेता हूं।

उन्होंने कहा कि आप लोगों के कार्य करने के लिए वह विधायक है। क्षेत्र की समस्याओं का निवारण वह कर सकते हैं। अनिल विज ने किसानों से जब कहा कि क्या वह मानते हैं कि पंजोखरा साहिब में उन्होंने विकास कार्य अपने कार्यकाल में करवाए है, इस पर किसानों ने हामी भरते हुए माना कि उनके द्वारा विकास कार्य करवाए गए हैं।

यह भी पढ़ें: Priyanka Gandhi Haryana Visit: प्रियंका का पहली बार सिरसा दौरा, गांधी परिवार की तीसरी पीढ़ी यहां करेगी चुनाव प्रचार

किसानों ने उनका स्वागत किया। विज ने कहा कि यदि उनका स्वागत कर रहे हो तो उन्हें चाय-पानी पिलाओ। एक किसान ने कहा कि आप तो मुख्यमंत्री बनोगे जिस पर विज ने किसानों से कहा कि आप मेरे साथ तो खड़े नहीं होते, ऐसे में कैसे अंबाला वाले को मुख्यमंत्री बना देंगे?

विज ने किसानों से यह भी कहा कि आप और हम एक ही है, बेशक हमारे मुद्दे अलग-अलग हो सकते हैं। वहीं, किसानों ने गांव के एक गोहर को पक्का बनाने की भी मांग पूर्व मंत्री विज के समक्ष की। शंभू बार्डर खोलने, विरोध के दौरान जेल में डाले गए युवाओं को छोड़ने आदि मांग रखी।

यह भी पढ़ें: Haryana Farmers: इस जिले में गेहूं की खरीद का चार साल का टूटा रिकॉर्ड, किसान हुए मालामाल; खाते में आए इतने पैसे


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.