मुंबई। रेस थ्री को लेकर चर्चा में आई डेजी शाह के लिए सलमान खान इंडस्‍ट्री में उनके लिए गॉड फादर हैं। वह अपनी आने वाली फिल्‍म को लेकर काफी एक्‍साइटेड हैं। उन्‍होंने कभी नहीं सोचा था कि रेस थ्री में बोला गया उनका एक डायलॉग सोशल मीडिया पर इतनी धूम मचा देगा और वो इसके चलते इतनी चर्चित हो जाएंगी। इस फिल्‍म और अपने करियर को लेकर उन्‍होंने एक खास मुलाकात में काफी कुछ बातें दैनिक जागरण से शेयर की हैं। पेश हैं इस इंटरव्‍यू के कुछ अंश।

‘रेस 3’ के ट्रेलर का एक डायलॉग सोशल मीडिया पर काफी चर्चा में है। कभी सोचा था कि एक डायलॉग आपको इतना फेमस कर देगा?
ऐसे कौन सोचता होगा? हमारी टीम में से किसी को ख्याल भी नहीं था कि इस डायलॉग पर लोग ऐसे रिएक्ट करेंगे। खुश होने की बात नहीं, फिर भी शुक्रिया हर किसी का, जिसे मजा आया। अब सबसे गुजारिश होगी कि जाकर फिल्म भी देखें और एंज्वॉय करें।

आपको कोई वजह नजर आई कि ये डायलॉग ट्रोल क्यों हुआ?
हर बात की वजह समझ में आ जाए, तो ये दुनिया हमेशा के लिए बदल जाए। सच कहूं, मैंने जानने की कोशिश भी नहीं की। सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग का कोई लॉजिक नहीं होता। हमारी टीम ने भी इसे फन के तौर पर लिया। सबसे ज्यादा एंज्वॉय तो खुद सलमान ने किया। मैं अब हंसकर खुद ही कह देती हूं, दैट्स नन ऑफ माय बिजनेस!

सलमान को आपका गॉडफादर कहा जाता है। आप सहमत हैं?
इसमें कोई दो राय नहीं हैं कि उन्होंने ही मेरा कॅरियर बनाया है। मैं जब ‘दबंग’ में कोरियोग्राफ कर रही थी तो ‘बाडीगार्ड’ प्लान हो रही थी। सलमान ने उस वक्त मुझे ‘बॉडीगार्ड’ के लिए पूछा था, मगर मैंने मना कर दिया। वो मेरे कारणों से सहमत थे। 2012 में उन्होंने ‘जय हो’ में मुझे लांच किया।

क्या किसी एक स्टार के भरोसे किसी हीरोइन का कॅरियर आगे बढ़ पाता है?
कॅरियर दो बातों से आगे बढ़ता है। आपको सही फिल्मों में सही रोल मिलें और आप पब्लिक की पसंद बन जाओ। ये दोनों बातें किसी को भी स्टार का दर्जा दे सकती हैं। मैं समझ नहीं पाती कि अगर मुझे सलमान सर आगे बढ़ाते हैं, तो प्रॉब्लम क्या है। वे कितने और न्यूकमर्स को आगे बढ़ाते हैं। अच्छी बात तो यह है कि वे किसी को बांधकर नहीं रखते। आप किसी बात पर उनकी राय लेना चाहें तो वो जरूर देंगे लेकिन आपके काम में टांग नहीं अड़ाते। मेरे पास अगर सलमान सर हैं और मैं अपने प्रोजेक्ट्स को लेकर उनसे बात करती हूं, तो मुझे नहीं लगता कि इसमें कुछ गलत है। मैं ये करती आई हूं और करती रहूंगी।

‘जय हो’, ‘हेट स्टोरी 3’ के बाद ‘रेस 3’ कर रही हैं। आपके कॅरियर का दायरा इतना छोटा क्यों रहा?
मैं ऐसा नहीं मानती। एक्ट्रेस के तौर पर मेरा कॅरियर 6 साल पुराना है। तीसरी फिल्म रिलीज हो रही है। तीनों का अनुभव अलग रहा है। रोल अलग रहे हैं। मुझे जो मिला है, उससे खुश हूं।
‘रेस 3’ में अपने किरदार के बारे में बताएं?
फिल्म का हर किरदार ग्रे शेड में है। वह कभी निगेटिव होगा, तो कभी पॉजिटिव। इसका पूरा मजा तो स्क्रीन पर ही मिलेगा।

क्राइम आधारित फिल्मों में हीरोइन को ग्लैमर के लिए कास्ट किया जाता है। आप इससे कितनी सहमत हैं?
पहले ऐसा होता था लेकिन अर्ब हिंदी सिनेमा बदल गया है। अगर ‘रेस’ सीरीज की बात करें, तो यह बात सरासर गलत होगी, क्योंकि यहां हीरोइन किसी मामले में हीरो से कम नहीं है। हर किरदार अहम है।

Exclusive Interview: अभी ही कर लें भविष्य में होने वाले खतरों की तैयारी  

Posted By: Kamal Verma