Move to Jagran APP

हॉलीवुड के दिग्गज फिल्मकार भी थे Satyajit Ray के मुरीद, इस निर्देशक ने की थी ऑस्कर अवॉर्ड की पैरवी

Satyajit Ray हिंदी सिनेमा का वो नाम है जिसको फिल्ममेकर्स कलाकार और सिने प्रेमी बड़े अदब के साथ लेते हैं। भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में फिल्ममेकिंग की एक अनोखी परिभाषा कायम करने वाले सत्यजीत रे की आज जयंती मनाई जा रही है। लेकिन क्या आपको पता है कि सिर्फ बॉलीवुड ही नहीं बल्कि हॉलीवुड (Hollywood) तक तमाम फिल्म निर्माता उनके मुरीद हुआ करते

By Ashish Rajendra Edited By: Ashish Rajendra Published: Wed, 01 May 2024 05:51 PM (IST)Updated: Thu, 02 May 2024 01:37 PM (IST)
सत्यजीत रे की बर्थ एनिवर्सरी आज (Photo Credit-Jagran)

एंटरटेनमेंट डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय सिनेमा से अगर किसी नाम ने विश्व पटल पर अपनी फिल्मों से छाप छोड़ी है तो वो सत्यजीत रे हैं। 3 मई को भारतीय सिनेमा की उम्र 111 साल हो जाएगी। 2 मई को सत्यजीत रे की 103वीं जयंती है।

सत्यजीत रे का परिवार भी कला और फिल्मी क्षेत्र में रुचि रखता था। बॉलीवुड में जिस तरह से उन्होंने योगदान दिया, उसकी चमक हॉलीवुड तक गई। आलम ये था कि भारत के अलावा विदेशी फिल्ममेकर्स भी सत्यजीत रे के हुनर के मुरीद थे। आइए इस लेख में जानते हैं कि हॉलीवुड के कौन-कौन से फिल्ममेकर्स सत्यजीत रे से प्रेरित थे। 

हॉलीवुड के ये फिल्ममेकर्स सत्यजीत रे के मुरीद

सत्यजीत रे हिंदी सिनेमा और बंगाली फिल्म इंडस्ट्री के उन चुनिंदा फिल्मेकर्स में शुमार थे, जो अपने फिल्ममेकिंग के अपने हुनर से दर्शकों का दिल मिनटों में जीत लिया करते थे। सामाजिक मुद्दो पर उन्होंने रे चारूलता और अरण्येर दिन रात्रि जैसी कई शानदार मूवीज बनाई। उनकी इस कला का लोहा हॉलीवुड के कई दिग्गज फिल्ममेकर्स ने माना। 

ये भी पढ़ें- सिर्फ एक सीन के खातिर Satyajit Ray ने साल भर रोक दी थी शूटिंग, इतनी मुश्किल के बाद बनी पहली फिल्म

  • अकीरा कुरोसवा

  • एलिया कजान

  • फ्रांसिस फोर्ड कूपोला

  • जॉर्ज लुकास

  • मार्टिन स्कोरसिस

  • क्रिस्टोफर नोलान

  • वेस एंडरसन

ये वे सभी इंग्लिश फिल्म निर्देशक और निर्माता हैं, जो सत्यजीत रे के निर्देशन और उनकी फिल्मों से काफी प्रभावित थे। इन सभी ने सत्यजीत को लेकर बड़े मंच पर खुलकर बातें की और उनकी तारीफ में जमकर कसीदे भी पढ़ें चुके हैं। 

इस फिल्म निर्माता ने की थी ऑस्कर के लिए पैरवी

हॉलीवुड के प्रसिद्ध फिल्ममेकर्स मार्टिन स्कोरसिस भी सत्यजीत रे से बहुत इंस्पायर थे। उन्होंने भारतीय निर्देशक की डेब्यू फिल्म पथेर पांचाली को डब वर्जन में कई बार देखा था।

इस फिल्म से  स्कोरसिस काफी प्रभावित हुए थे और उन्होंने सत्यजीत रे की प्रतिभा को सलाम किया। सिर्फ इतना नहीं 1991 के ऑस्कर अवॉर्ड्स शो के दौरान मार्टिन स्कोरसिस ने सत्यजीत रे को लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड देने की पैरवी की थी। 

36 फिल्मों से सत्यजीत रे ने बदली हिंदी सिनेमा की तस्वीर

सत्यजीत रे को हिंदी सिनेमा के महान डायरेक्टर के तौर भी माना जाता है। 1955 में पथेर पांचाली के साथ बतौर निर्देशक सत्यजीत रे ने इंडस्ट्री में कदम रखा।

इसके बाद उन्होंने द वर्ल्ड ऑफ अपू, देवी, नायक द हीरो, जलसाघर, महानगर, तीन कन्या और महापुरुष समेत करीब 36 फिल्मों का निर्माण किया था।बता दें कि इन मूवीज में मूल रूप से बंगाली भाषा की फिल्में थीं, जिनके हिंदी रूपांतरण भी बाद में सामने आए थे।

ये भी पढ़ें- हिंदी सिनेमा में आए इस बदलाव से थक गए थे Manna Dey, 4000 गानों के बाद छोड़ दी थी फिल्म इंडस्ट्री


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.