मुंबई, एएनआइ। महाराष्ट्र में बुलढाणा जिला के चिखली में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि हम राजनीति से ज्यादा भारत के भविष्य की चिंता करते हैं। महाराष्ट्र को सुरक्षित रखने और विकसित बनाने के लिए नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व वाली भाजपा-शिवसेना की सरकार बनाना जरूरी है। एनसीपी-कांग्रेस सरकार ने राज्य में 15 साल तक लूट मचाई है।

भ्रष्टाचार कांग्रेस और एनसीपी का संस्कार है। कांग्रेस और एनसीपी अपने बेटों के विकास के लिए काम कर रही है, सभी की संताने इस बार चुनावी मैदान में हैं। कांग्रेस ने विदर्भ के साथ अन्याय किया है जबकि भाजपा ने न्‍याय के साथ उसका विकास भी किया है। कांग्रेसी कह रहे हैं कि अनुच्‍छेद 370 हटाने से महाराष्ट्र वालों को क्या मतलब जबकि सिर्फ महाराष्ट्र ही नहीं देश की समग्र जनता चाहती है कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बना रहे। 

70 वर्षो से आतंक के साये में जी रहे कश्मीर में हजारों लोगों की मौत हो चुकी है, कांगे्रस और एनसीपी हमेशा 370 हटाने का विरोध किया, लेकिन भाजपा ने इसे हटाकर दिखा दिया।  कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद कहते थे कि 370 हटाने से कश्मीर में खून की नदियां बहेगी लेकिन वहां खून का एक कतरा भी नहीं बहा।

 Amit Shah in Maharashtra Live Updates

- कांग्रेस-एनसीपी देश को सुरक्षित नहीं रख सकते और न ही महाराष्ट्र को। देश को और महाराष्ट्र को सुरक्षित रखने और विकसित बनाने के लिए महाराष्ट्र में नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व वाली भाजपा-शिवसेना की सरकार बनाना जरूरी है।

- विकास कार्यों के मामले में भाजपा सरकार ने कांग्रेस-एनसीपी के मुकाबले कहीं ज्यादा काम किया है। मगर ये चुनाव अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहला चुनाव है। इस चुनाव में दुनिया में ये संदेश जाना चाहिए कि पूरा भारत 370 हटाने के पक्ष में एकजुट है। 

-  भ्रष्टाचार कांग्रेस और एनसीपी का संस्कार है। मैं दावे के साथ आप सभी को कहता हूं कि नरेन्द्र मोदी जी और देवेन्द्र फडणवीस जी पर हमारे विरोधी भी भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा सकते, ऐसी पारदर्शी सरकारें देने का काम भाजपा ने किया है।

- महाराष्ट्र में एनसीपी-कांग्रेस सरकार ने राज्य में 15 साल तक लूट मचाई है।

- कांग्रेस और एनसीपी अपने बेटों के विकास के लिए काम कर रही है। शरद पवार, सुप्रिया सुले, अजीत पवार और उनके बेटे, सभी इस बार चुनावी मैदान में हैं। क्यों भाई और किसी के पास टेलेंट नहीं है क्या? ये परिवारवादी पार्टियां महाराष्ट्र का विकास नहीं कर सकती हैं।

-पहले कहा जाता था कि विदर्भ में बिजली बनती है मगर यहां बिजली पहुंचती नहीं है, देवेन्द्र फडणवीस सरकार ने समग्र विदर्भ में बिजली पहुंचाई है और 5 साल के अंदर उद्योगों के 2 रुपये प्रति यूनिट बिजली में छूट देकर उद्योगों को बढ़ावा देने की शुरुआत की है।

-कांग्रेस की जितनी भी सरकारें रहीं, सभी ने विदर्भ के साथ अन्याय किया। जबकि भाजपा ने विदर्भ को न्याय दिलाने के साथ-साथ उसे विकास के रास्ते पर आगे ले जाने का कार्य भी किया है। हमने समग्र महाराष्ट्र का विकास किया है, यही भाजपा की संस्कृति है।

- कांग्रेसी कह रहे हैं कि अनुच्‍छेद 370 हटाने से महाराष्ट्र वालों को क्या मतलब। मैं यहां की जनता को पूछना चाहता हूं कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग हो ये आप चाहते हैं या नहीं? सिर्फ महाराष्ट्र ही नहीं देश की समग्र जनता चाहती है कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बना रहे

- महाराष्ट्र ने पिछले पांच वर्षों में दोहरे इंजन वाले सरकार का लाभ उठाया है। केंद्र में पीएम मोदी, और महाराष्ट्र में सीएम फडऩवीस जी।

-70 साल से आतंकवाद झेल रहे कश्मीर में 40 हजार से ज्यादा लोग मारे गए। इसके बावजूद भी कांग्रेस और एनसीपी अपनी वोटबैंक की राजनीति के लिए 370 को हटाने का विरोध करती रही। मगर भाजपा के लिए देश की सुरक्षा, हमारी सरकारों से ज्यादा महत्वपूर्ण है, इसलिए हमने 370 हटायी। 

- हम राजनीति से ज्यादा भारत के भविष्य की चिंता करते हैं

- शाह ने कहा जब अनुच्छेद 370 पर बहस हो रही थी तब कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद कहते थे कि 370 हटाने से कश्मीर में खून की नदियां बहेगी। मैं आज कांग्रेस नेताओं को बताना चाहता हूं कि कश्मीर में 370 हटने के बाद खून की नदियां क्या, खून का एक कतरा भी नहीं बहा है। 

-अमित शाह ने अपने संबोधन में कहा महाराष्ट्र में आगामी 21 तारीख को चुनाव होना है। दोनों खेमे चुनावी मैदान में खड़े हैं। एक ओर नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा और शिवसेना है, दूसरी ओर एनसीपी और कांग्रेस है 

-बुलढाणा जिला न केवल विदर्भ और महाराष्ट्र के लिए बल्कि पूरे देश के लिए बहुत खास है , क्योंकि यह माता जीजाबाई की जन्मस्थली है

- केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह  ने महान समाज सुधारक और प्रबुद्ध राष्ट्र सेवक 'भारत रत्न' नानाजी देशमुख जी की जयंती पर उन्‍हें कोटि-कोटि नमन किया

 गौरतलब है कि गुरुवार को महाराष्ट्र के सांगली में भी अमित शाह ने चुनावी जनसभा को  संबोधित किया था। शाह ने अपने संबोधन में कहा था कि पीएम मोदी की विदेश यात्राओं पर अक्सर सवाल उठते हैं जबकि पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने उनसे ज्यादा विदेश यात्राएं की थी। मनमोहन सिंह जो भाषण पढ़ते थे वो मैडम लिखकर देती थीं। एक बार मनमोहन सिंह मलेशिया में रूस के लिए लिखा गया भाषण पढ़ गये थे। 

Maharashtra assembly elections2019: अनुच्छेद 370 हटना आतंकवाद के ताबूत में आखिरी कील- योगी आदित्यनाथ

 महाराष्ट्र की अन्य खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस