लखनऊ, जेएनएन। अनुशासन पसंद मायावती लोकसभा चुनाव 2019 में भी गठबंधन की पार्टी समाजवादी पार्टी को भी अनुशासनहीनता के मामले में नसीहत देने में पीछे नहीं हैं। मायावती ने कल फिरोजाबाद में अक्षय यादव के समर्थन में जनसभा में मंच से ही सपा के कार्यकर्ताओं को नसीहत दे डाली। मंच पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव व रामगोपाल यादव के सामने ही बसपा मुखिया मायावती ने समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओं को तगड़ी नसीहत दी।

मायावती ने कहा कि समाजवादी पार्टी के लोगों को बहुजन समाज पार्टी से अभी बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। फिरोजाबाद में सपा-बसपा-रालोद गठबंधन की संयुक्त रैली के दौरान बसपा सुप्रीमो मायावती ने समाजवादी पार्टी और उनके समर्थकों को लेकर ऐसी टिप्पणी की है, जो अखिलेश यादव को खटक सकती है।

फिरोजाबादा में सपा-बसपा-रालोद की संयुक्त रैली के दौरान समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता नारेबाजी कर रहे थे। तभी अपने भाषण को बीच में रोककर मायावती ने समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता व नेताओं को बसपा से बहुत कुछ सीखने की नसीहत दे डाली। मायावती ने सपा कार्यकर्ताओं के अनुशासन में रहने की सीख दी। मायावती ने मंच से भाषण रोककर कहा कि आप लोग ये जो बीच में, जो नारेबाजी लगाते हैं, हल्ला करते हैं, आप लोगों को थोड़ा बीएसपी के लोगों से सीखना चाहिए कि कैसे वे अपनी बात रखते हैं और मेरी बात सुनते हैं। अभी तो समाजवादी पार्टी के लोगों को भी बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। बसपा के लोग पार्टी और हमारी बात बहुत शांति से सुनते हैं।

फिरोजाबाद से समाजवादी पार्टी की टिकट पर अक्षय यादव गठबंधन के उम्मीदवार हैं। यहां पर उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पाटी (लोहिया) से उनके खिलाफ ताल ठोंक दी है।

 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dharmendra Pandey