नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। WATCH Chhatrasal Stadium Murder Case Video Footage: सागर हत्याकांड में सुशील कुमार के साथी के मोबाइल से बरामद हुई वीडियो क्लिप ने उस रात की वहशीयाना हरकत से पर्दाफाश कर दिया है। पुलिस के पास ये वीडियो क्लिप एक पुख्ता सबूत की तरह है। पुलिस ने इसे कोर्ट में पेश कर दिया है। इस वीडियो क्लिप में सुशील अपने साथी गैंगस्टरों के साथ सागर और उसके साथियों को किस तरह से पीट रहा है ये स्पष्ट तौर पर दिखाई पड़ता है।

छत्रसाल स्टेडियम की पार्किंग में ये लोग इन चारों को अलग-अलग जगह पर गिराकर मारते हुए दिखाई पड़ते हैं। इसी दौरान वीडियो में एक-दो बार कुछ अन्य युवक अपने हाथ में रिवाल्वर और अन्य चीजें लहराते हुए दिखाई पड़ते हैं। जिस जगह पर सुशील कुमार पहलवान सागर को डंडे से पीटते हुए दिखाई देता है उसके ठीक पीछे एक अन्य युवक पर उसी तरह से डंडे से वार किया जाता नजर आता है। कुछ लोग इन युवकों को डंडे और लातों से मार रहे दिखाई देते हैं तो कुछ लोग सुशील को पकड़कर रोकने की कोशिश करते हुए भी दिखाई देते हैं मगर उसके बाद भी सुशील रूकने का नाम नहीं लेता। अब धीरे-धीरे चीजें सामने आती जा रही है।

दरअसल 4-5 मई की उस रात सुशील अपने गैंगस्टर साथियों के साथ मॉडल टाउन के फ्लैट से सागर और उसके साथियों को गाड़ी में डालकर ले आए थे, ये सभी डंडे और हथियारों से लैस थे। उनके पास पिस्टल, रिवाल्वर व तमंचा जैसे छोटे हथियार थे। घटना के बाद पुलिस ने सुशील समेत 9 आरोपितों को अब तक गिरफ्तार तो कर लिया है, लेकिन हथियार बरामद नहीं कर पाई है।

इन लोगों ने उस रात किसी रेस्तरां में खाना खाया व शराब पी। उसके बाद सभी पहले शालीमार बाग आये। वहां से सोनू व सागर के दोस्त रविन्द्र व विकास को उठाया और कार में बैठा लिया। फिर मॉडल टाउन तीन में जाकर सागर, सोनू व अन्य को कार में डाल स्टेडियम लेकर आ गए थे। उसके बाद पार्किंग एरिया में सागर, सोनू व अन्य को लाठी डंडे व रॉड से बुरी तरह पिटाई की गई। जमीन पर गिरा कर जानवरों की तरह उनकी पिटाई की गई।

ये भी पढ़ेंः Weather Alert: दिल्ली-NCR में मंगलवार को तेज हवा के साथ होगी बारिश, जानें अगले तीन दिन कैसा रहेगा मौसम

पुलिस का कहना है कि जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया गया उससे माना जा रहा कि सुशील ने अजय सहरावत के साथ मिलकर सुनियोजित तरीके से घटना को अंजाम दिया। सात कारों में 20 से अधिक बदमाश थे जिन्होंने सागर, सोनू महाल, भक्तु, अमित, रविन्द्र व विकास की छत्रसाल स्टेडियम के बाहर पार्किंग एरिया में 4 मई की देर रात एक बजे बुरी तरह पिटाई की थी।

पढ़ेंः कर्मचारियों की सैलरी भुगतान नहीं करने पर अब अटैच की जाएगी संपत्ति, हाई कोर्ट ने निगमों को दी चेतावनी

इसे भी पढ़ेंः Twitter को दिल्ली हाई कोर्ट से झटका! करना होगा नये आइटी नियमों का अनुपालन

 

Edited By: Vinay Kumar Tiwari