नई दिल्ली (जेएनएन)। जोधपुर (राजस्थान) निवासी महंत सुंदर दास महाराज के खिलाफ उत्तरी दिल्ली के सब्जी मंडी थाने में महिला (45) ने दुष्कर्म व जान से मारने की धमकी देने का मुकदमा दर्ज कराया है। महिला महंत की शिष्या रही है। पहले महिला ने छेड़खानी की शिकायत की थी।

कोर्ट में धारा-164 का बयान दर्ज कराने के बाद पुलिस ने 2 अक्टूबर को केस में दुष्कर्म व जान से मारने की धमकी देने की धारा लगा दी। पुलिस अधिकारी का कहना है कि मामला विवादित है, इसलिए अभी महंत को गिरफ्तार नहीं किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ेंः सास ने अपनी जवान बहू का करवाया गैंगरेप, आरोपियों ने रेप का वीडियो भी बनाया

पुलिस के मुताबिक महंत का राजस्थान में जोधपुर से 50 किलोमीटर आगे बिराई में रामधाम नाम से बड़ा आश्रम है, जहां सैकड़ों लोग रहते हैं।

दिल्ली में सब्जीमंडी इलाके की केदारनाथ बिल्डिंग में भी 2000 गज में महंत का तीन मंजिल का आश्रम है। यहां भी सैकड़ों लोग रहते हैं। उनका दिल्ली आना-जाना लगा रहता है।

यह भी पढ़ेंः राम रहीम और इस महंत में काफी समानताएं, शिष्याओं को बनाते थे हवस का शिकार

पीड़ित महिला का पूरा परिवार महंत का भक्त है। वे लोग पहले आश्रम में ही रहते थे। महिला पहले केदारनाथ बिल्डिंग स्थित आश्रम में केयर टेकर थी।

ऐसे शुरू हुआ विवाद

आश्रम की प्रापर्टी को लेकर विवाद शुरू हुआ था। आश्रम की प्रॉपर्टी को लेकर सबसे पहले महिला की दो सौतेली बेटियों ने दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। एक ने महंत के कहने पर अपने पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया और दूसरी युवती ने एक अन्य युवक के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया।

यह भी पढ़ेंः राम रहीम-आसाराम के बाद युवतियों से दुष्कर्म में घिरा एक और बाबा

शिकायत में दूसरी युवती ने कहा था कि उसकी सौतेली मां ने एक परिचित युवक को आश्रम में बुलाकर उससे दुष्कर्म कराया था। इसके बाद पुलिस ने उक्त युवक व महिला समेत उसके पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

सितंबर में जमानत पर बाहर आने पर महिला ने पहले सब्जीमंडी थाने में महंत के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। कोर्ट में बयान कराने के बाद केस में दुष्कर्म व जान से मारने की धाराएं जोड़ दी गईं।

Posted By: JP Yadav