Move to Jagran APP

मंगोलपुरी में मंदिर का ढांचा गिराने पहुंची नगर निगम की टीम, लोगों के भारी विरोध के बाद लौटना पड़ा खाली हाथ

मंगोलपुरी के जी-ब्लॉक में भारी आबादी के बीच बने एक मंदिर के ढांचे को नगर निगम की टीम आज गिराने पहुंची। जिसके बाद स्थानीय लोगों ने इसका विरोध करना शुरू किया। महिलाएं मंदिर के आगे बैठ गईं और नारेबाजी करने लगीं। मौके पर विश्व हिंदू परिषद के नेता भी मौजूद थे। जिसके बाद निगम की टीम को खाली हाथ ही लौटना पड़ा।

By Jagran News Edited By: Monu Kumar Jha Wed, 10 Jul 2024 01:40 PM (IST)
Delhi News: मंगोलपुरी में मंदिर का ढांचा हटाने गई टीम का भारी विरोध। फाइल फोटो

 जागरण संवाददाता, बाहरी दिल्ली। मंगोलपुरी के जी-ब्लॉक में आबादी के बीच बने मंदिर के ढांचे को हटाने पहुंची नगर निगम की टीम को लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा।

बड़ी संख्या में महिलाओं ने मंदिर के आगे दिया धरना

बड़ी संख्या में महिलाएं मंदिर के आगे बैठ गईं। लोगों के भारी जमावड़े के बाद नगर निगम की टीम को कार्रवाई किए बिना ही लौटना पड़ा। बाहरी जिला पुलिस उपायुक्त जिमी चिराम ने मौके का मुआयना किया।

— मोनू कुमार (@monu_kumar22) July 10, 2024

लोगों के मुताबिक मंदिर 30-35 साल पुराना

स्थानीय लोगों का कहना है कि मंदिर 30-35 साल पुराना है। विश्व हिंदू परिषद के नेता अशोक बजाज ने बताया कि मंदिर का विस्तार किया गया था, जिसे रोकने के लिए नगर निगम की टीम आई थी, इस बारे में निगम से बात हो गई है।

यह भी पढ़ें: Delhi To Bihar Trains: दीवाली और छठ पूजा के दौरान दिल्ली से बिहार जाने वाली इन ट्रेनों में टिकट फुल, देखें लिस्ट

यह भी पढ़ें: दिल्ली में VIP नंबर की दीवानगी, 0001 नंबर के लिए 23 लाख, 0009 के लिए लगी 11 लाख की बोली