नई दिल्ली [संतोष शर्मा]। Sharjeel Imam Sedition Case: देशद्रोह के मामले में गिरफ्तार जेएनयू के शोध छात्र शरजील के पास से बरामद लैपटाप और मोबाइल फोन में क्राइम ब्रांच को कई आपत्तिजनक चीजें मिली हैं। उसके लैपटॉप से एक विवादित पोस्टर की तस्वीर बरामद हुई है। सीएए और एनआरसी के विरोध में उर्दू और अंग्रेजी में विवादित पोस्टर बनाया गया था। इसे छात्रों के सभी ग्रुपों में डाले जाने के अलावा मस्जिदों में भी बांटा गया था। माना जा रहा है कि इसने लोगो को आंदोलित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

उधर, उसके मोबाइल फोन से वाट्सएप ग्रुप की मदद से जामिया और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिंटी के पंद्रह लोगों की पहचान की गई है। इनमें से कुछ छात्र भी हैं। पुलिस ने कुछ को नोटिस भेज दिया है जबकि अन्य को नोटिस भेजने की तैयारी की जा रही है। उन्हें पुलिस पूछताछ के लिए जल्द बुलाया जा सकता है।

पीएफआई के नौ लोगों से नजदीकी संबध

जांच अधिकारियों के मुताबिक शुरूआती जांच में शरजील के पीएफआई के नौ लोगों से नजदीकी संबध सामने आए हैं। शरजील लगातार उनके संपर्क में भी था। लिहाजा पुलिस उसके बैंक अकाउंट की जांच कर यह पता लगाने में जुटी है कि कहीं विदेशों से भी तो उसे फंडिंग नहीं की गई है।

मुस्लिम युवाओं को शरजील ने भड़काया

पोस्ट के माध्यम से शरजील ने 15 दिसंबर को जमिया मिलिया के छात्रों द्वारा दोपहर तीन बजे विरोध प्रदर्शन के दौरान भारी संख्या में मुस्लिमों से शामिल होने का आह्वान भी किया गया था। पुलिस को शरजील के मोबाइल फोन से एक धर्म विशेष से जुड़े कई वाट्सएप ग्रुपों की जानकारी भी मिली है। पुलिस उनमें हुई चैटिंग को बारीकी से खंगाल रही है।

पुलिस सूत्रों का कहना है कि शरजील इमाम ना सिर्फ बेहद शातिर है, बल्कि बोलने में भी उसे महारत हासिल है। उसकी मंशा उत्तरी भारत में मुस्लमों का बड़ा नेता बनने की थी। वह तरह-तरह के उदाहरण देकर अपने तर्कों से संपर्क में आए लोगों को प्रभावित कर देता था। यही नहीं वह अपनी बातों से पुलिस को भी बरगलाने करने की कोशिश कर रहा है। वह सीएए को संविधान के खिलाफ बताने के साथ ही इसके विरोध में प्रदर्शन को सही साबित करने में जुटा हुआ है।

शरजील की रिमांड तीन दिन और बढ़ी

वहीं, शरजील इमाम को तीन दिन की और रिमांड पर भेज दिया गया है। रिमांड खत्म होने के बाद शरजील की सोमवार को दिल्ली की एक अदालत में पेशी हुई। इसके बाद कोर्ट ने उसकी रिमांड तीन दिन और बढ़ा दी। हालांकि पुलिस ने कोर्ट से पांच दिन की रिमांड मांगी थी। 

ये भी पढ़ेंः केजरीवाल को 'आतंकवादी' कहने वाले बयान पर भाजपा सांसद कायम, बोले- कुछ गलत नहीं कहा

Delhi Election 2020: बसपा उम्मीदवार AAP में शामिल, चुनाव से पहले दिया मायावती को झटका

Delhi Election 2020: दिल्ली के सीएम असमाजिक तत्वों के हाथ का खिलौना बन गए हैं: योगी

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस