Move to Jagran APP

दिल्ली शराब घोटाले को लेकर AAP-BJP आमने-सामने, आप ने चलाया हस्ताक्षर अभियान तो भाजपा ने किया मौन प्रदर्शन

आबकारी नीति घोटाले को लेकर दिल्ली भाजपा और आप में तकरार बढ़ी जा रही है। सोमवार को जहां भाजपा ने मौन विरोध प्रदर्शन करते हुए केजरीवाल का इस्तीफा मांगा तो दूसरी ओर आम आदमी पार्टी ने हस्ताक्षर अभियान शुरू किया है।

By Nitin YadavEdited By: Nitin YadavMon, 13 Mar 2023 01:29 PM (IST)
दिल्ली शराब घोटाले को लेकर AAP-BJP आमने-सामने। फोटो सोर्स- जागरण फोटो।

नई दिल्ली, डिजिटल डेस्क जागरण। दिल्ली में हुए कथित शराब घोटाले में मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी के बाद भाजपा और आम आदमी पार्टी आमने-सामने आ गई हैं। बीते महीने से भाजपा भ्रष्टाचार के विरोध में प्रदर्शन कर रही है तो आप केंद्र सरकार पर सरकारी संस्थाओं के दुरुपयोग का आरोप लगा रही है।

आज सोमवार यानी 13 मार्च को आप के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश भर में सिसोदिया की गिरफ्तारी को लेकर हस्ताक्षर अभियान चलाया, जहां दिल्ली सरकार के मंत्री और पार्टी के कई वरिष्ठ नेतओं ने भाग लिया।

जनता के लिए करते रहेंगे काम: गोपाल राय

पार्टी के हस्ताक्षर अभियान में पहुंचे दिल्ली सरकार के मंत्री गोपाल राय ने कहा- मोदी सरकार अरविंद केजरीवाल और उनके मंत्रियों से डरी हुई है। आप नेताओं को झूठे आरोपों में जेल भेजा जा रहा है, लेकिन केजरीवाल के सिपाही डरेंगे नहीं। ईमानदारी से जनता के लिए काम करते रहेंगे।

भाजपा ने मांगा केजरीवाल का इस्तीफा

वहीं, आम आदमी पार्टी के हस्ताक्षर अभियान और दिल्ली शराब नीति मामले में राज्य के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का इस्तीफे की मांग करते हुए मौन विरोध प्रदर्शन किया है। वहीं, बीजेपी दिल्ली के कार्यकारी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा, विधानसभा में विपक्ष के नेता रामवीर सिंह बिधूड़ी और अन्य पार्टी कार्यकर्ताओं ने भी महात्मा गांधी के स्मारक पर विरोध प्रदर्शन के दौरान केजरीवाल सरकार पर सद्बुद्धि की प्रार्थना की।

आपको बात दें कि  नई आबकारी नीति घोटाले से जुड़ मनी लांड्रिंग मामले में पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया इन दिनों ईडी की रिमांड पर हैं, जहां उनसे सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में ही पूछताछ की जा रही है। राउज एवेन्यू कोर्ट ने ईडी को सिसोदिया की सशर्त 7 दिन की रिमांड दी है। कोर्ट ने आदेश किया है कि पूछताछ के दौरान की सीसीटीवी कैमरे की फुटेज सुरक्षित रखी जाए। 48 घंटे के अंतराल पर हो स्वास्थ्य की जांच की जाए और  रोजाना 6 से 7 बजे के बीच उनके वकील मोहम्मद इरशाद और विवेक जैन आधे घंटे उनसे मिलकर बात कर सकते हैं। कोर्ट ने शर्त लगाई है कि इस बात को कोई भी ईडी अधिकारी नहीं सनेगा।

21 मार्च को होगी सिसोदिया की जमानत याचिका पर सुनवाई

बता दें कि 26 फरवरी को सीबीआई ने दिल्ली आबकारी नीति (2021-22) घोटाला मामले में सिसोदिया को आठ घंटे तक पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद 27 फरवरी को उन्हें राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश कि गया। जहां से उन्हें चार मार्च तक सीबीआई हिरासत में भेज दिया। चार को कोर्ट ने फिर से उनकी दो दिन हिरासत बढ़ा दी। सिसोदिया सोमवार (6 मार्च) तक सीबीआई हिरासत में रहे। इसके बाद उन्हें सोमवार को राउज एवेन्यू कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इसके बाद उन्होंने राउज एवेन्यू कोर्ट में जमानत याचिका दायर की थी, जिसमें 10 मार्च को सुनवाई करते हुए अदालत ने ईडी को रिमांड देते हुए 21 मार्च तक टाल दिया।