नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। Post Office Saving Scheme 2023 अगर आप सुरक्षित बचत योजना में निवेश का मन बना रहे हैं और अधिकतम ब्याज पाना चाहते हैं, तो आज हम आपको पोस्ट ऑफिस की ऐसी स्कीम के बार में बताने जा रहे हैं, जिस पर आपको ये दोनों ही फायदे मिलते हैं। इस स्कीम का नाम है सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (Senior Citizen Savings Scheme- SCSS)।

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम एक सरकारी बचत योजना है। इस कारण निवेश पूरी तरह से सुरक्षित होता है और रकम डूबने का कोई भी खतरा नहीं होता है। मौजूदा समय पर SCSS पर 8 प्रतिशत का ब्याज दिया जा रहा है। वहीं, कई प्रकार के टैक्स बेनिफिट भी SCSS पर दिए जाते हैं, जिनके बारे में हम अपने लेख में बताने जा रहे हैं।

ये लोग कर सकते हैं निवेश

SCSS में 60 वर्ष से अधिक का कोई भी व्यक्ति निवेश कर सकता है। इसके अलावा 55 वर्ष से अधिक और 60 वर्ष से अधिक के वे व्यक्ति जो अपनी सेवा से रिटायर हो चुके हैं। वे भी निवेश कर सकते हैं। एनआरआई और एचयूएफ को इसमें निवेश करने की इजाजत नहीं है।

80C में मिलती है टैक्स छूट

अगर आप SCSS में निवेश करते हैं। तो आयकर की धारा 80C के तहत 1.50 लाख रुपये तक निवेश टैक्स छूट के दायरे में आता है। हालांकि, इससे मिलने वाले ब्याज पर एक सीमा के बाद टीडीएस कटता है और मिलने वाली ब्याज को आपकी आय में शामिल किया जाता है।

SCSS की मैच्योरिटी

SCSS की मैच्योरिटी अवधि पांच वर्ष है। मैच्योरिटी के बाद आप एक वर्ष के अंदर आप इसकी मैच्योरिटी अवधि को तीन वर्ष के लिए बढ़ा सकते हैं। मैच्योरिटी के बाद पैसे निकालने पर भी किसी तरह का कोई चार्ज नहीं लिया जाता है।

न्यूनतम और अधिकतम निवेश

SCSS में आप न्यूनतम एक हजार रुपये के निवेश से शुरुआत कर सकते हैं। वहीं, इसमें अधिकतम 15 लाख रुपये तक का निवेश किया जा सकता है। इसमें एक लाख से अधिक की राशि जमा करने पर भुगतान चेक से करना होता है।

ये भी पढ़ें-

Social Media Influencers को झूठा प्रचार करना पड़ सकता है भारी, नए नियम नहीं माने तो लगेगा 50 लाख का जुर्माना

इस सरकारी योजना में रोज 410 रुपये लगाकर बन सकते हैं करोड़पति, जानें पूरा कैलकुलेशन

 

Edited By: Abhinav Shalya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट